Published On : Wed, Mar 18th, 2015

कोराडी : महादुला न.पं. ने किया कुशल महिलाओं का सत्कार

Womens day celebrated in Koradi
कोराडी (नागपुर)। महादुला नगरपंचायत की ओर से महादुला की कुशल महिलाओं का सत्कार मंगलवार 17 मार्च को सामूहिक तरीके से किया गया. महिला दिवस के अवसर पर नगराध्यक्षा कांचन कुथे और महिला, बाल कल्याण समिति सभापति सीमा जैसवाल के मार्गदर्शन में आयोजित इस कार्यक्रम में 70 आंगनवाडी सेविका, मदतनीस, महिला बचत गट के अध्यक्ष और सचिव, आरोग्य सेविका और आशा वर्कर्स का सत्कार किया गया. समाज भवन में ज्योति चंद्रशेखर बावनकुले की अध्यक्षता में हुए इस कार्यक्रम में पूर्व सभापति विमल साबले, पूर्व जि.प. सदस्या दर्शन राजेश रंगारी, गीता बापू बावनकुले, बैंक ऑफ़ बड़ोदा के सहप्रबंधक शिल्पा चंद्रिकापुरे, कुमारी रंजीता सिंह, नगराध्यक्षा कांचन कुथे और महिला, बाल कल्याण समिति सभापति सीमा जैसवाल, नगरसेविका संगीता भोंगाडे, सरस्वती लांडगे, उषा मडामे, ज्योति उजवणे, अलका भांदककर आदि प्रमुख अतिथि उपस्थित थे.

महिला खुद को अबला न समझे – ज्योति बावनकुले
इस दौरान ज्योति बावनकुले ने कहा कि महिला खुद को अबला न समझे. हर सफल पुरुष की सफलता में उसकी अर्धांगिनी का महत्वपूर्ण हिस्सा रहता है. बच्चे संभालते हुए घर के हर सदस्यों का ध्यान उसे रखना पड़ता है. संस्कारित परिवार की जिम्मेदारी उस पर होती है. राजकीय और सामाजिक क्षेत्र में हम कही भी पीछे नही है. बलवान और प्रगतिशील भारत बनाने के लिए महिलाओं की भूमिका महत्वपूर्ण होती है.

सामाजिक तथा पारिवारिक अत्याचार के बली न चढ़े – दर्शना रंगारी
इस दौरान पूर्व जि.प. सदस्या दर्शन रंगारी ने महिलाओं ने सामाजिक तथा पारिवारिक अत्याचार के बली न चढने की सलाह दी. आज भी परिवार में महिलाओं को पारिवारिक अत्याचार सहना पडता है. वे पुर्णतः सुरक्षित नही है. उसके लिए शिक्षा ले, सशक्त बने, कोई भी अत्याचार नही सहे, परिवार को सुरक्षित करे, संस्कार दे ये महिलाओं की जिम्मेदारी है. तथा घर के वृद्धों का आदर करे.

कार्यक्रम का प्रास्ताविक सीमा जैसवाल ने, संचालन नगराध्यक्षा कांचन कुथे ने तथा आभार प्रदर्शन अलका भांदककर ने किया.