Published On : Sat, Sep 14th, 2019

सीताबर्डी से खापरी मार्ग पर 90 की स्पीड से दौडी मेट्रो

नागपुर : महा मेट्रो के रिच –1 ऑरेंज लाइन के सिताबर्डी से खापरी, मेट्रो स्टेशन तक यात्री सेवा जारी है. इसके उपरांत भी सुविधा और सुरक्षा संबंधी कार्य किए जा रहे है .

सीताबर्डी से खापरी स्टेशन के दरमियान आरडीएसओ ने ऑसीलेशन ट्रायल लिया है. माझी मेट्रो ट्रेन में महा मेट्रो ने 4 हजार रेती के बोरे भरकर 90 किलो मीटर प्रतिघंटे कि रफ्तार से ट्रायल किया . आरडीएसओ ने 11.5 किलोमीटर कि इस लाईन पर ट्रेन कि 970 यात्री क्षमता के भार के अनुसार 63 टन वजनी रेत की बोरियां भरी थी. विविध तकनीकी पहलुओं का भी ट्रायल रन लिया गया.

उपकरणों के द्वारा ट्रेन कि रफ्तार और होने वाले कंपन का भी ब्योरा दर्ज किया गया .आरडीएसओ के मानकों के अनुसार जांच कि गई. जांच कि शुरुआत मे सर्वप्रथम खाली ट्रेन 50 किलोमीटर कि रफ्तार से दौडाई गई, उसके बाद ट्रेन मे 63 टन वजन भरा गया था . ट्रायल के दौरान चरणबद्ध गति बढाई गई और 90 किलोमीटर तक कि रफ्तार तक का ट्रायल का सफल परीक्षण किया गया. ऑसीलेशन ट्रायल की रिपोर्ट प्रस्तुत करने कि अवधि 15 दिन दी गई थी, जिसे महा मेट्रो ने 7 दिन में पूरा कर पेश कर दी.

डीएमसी-ए फर्स्ट बोगी, टीसी फर्स्ट बोगी आणि डीएमसी-बी फर्स्ट बोगी पर ब्रेकेटिंग किया गया था. इसी तरह गतिमापक सेन्सर और इस पर नियंत्रण करने वाली प्रणाली स्थापित कि गई थी . आरडीएसओ के पथक ने गाडी के विविध भागों में सेन्सर्स लगाकर विस्तृत जानकारी संकलित की.

इसके अंतर्गत यात्रियों को मिलने वाली सुविधाए,रायडरशिप इंडेव्स, आपतकालिन ब्रेक व्यवस्था जैसे मापदंडो कि जांच की जाती है . बारीश जैसा माहौल तैयार कर विविध तकनीकी पहलुओं कि जांच आरडीएसओ द्वारा की गई. जांच की विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर रेल्वे बोर्ड को भेजी जाएगी.