Published On : Mon, Dec 3rd, 2018

सिंधी समाज को मकान मालिकान के पट्टे और नागरिकता का होगा वितरण

नागपुर – सिंधी समाज को मकान मालिकान के पट्टे का सोमवार को मुख्यमंत्री के हाँथो वितरण होगा। बंटवारे के समय देश में विस्थापित हुए सिंधी समाज के लोग बीते 70 वर्षो से मकान के पट्टे का अधिकार हासिल करने के लिए संघर्ष रत थे। इस संबंध में बीते कई वर्षो से सरकार से माँग भी की जा रही थी।

राज्य में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए 14 जून 2018 को एक जीआर निकालकर सिंधी समाज को यह अधिकार देने का फैसला लिया। इस फैसले का लाभ नागपुर में सिंधी समाज के लगभग 25 हजार घरों को होगा। सोमवार को सिंधी नगर सोसायटी ग्राउंड में मुख्यमंत्री के हस्ते पट्टे का वितरण किया जायेगा। स्थाई समिति अध्यक्ष वीरेंद्र कुकरेजा ने कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि इस फैसले की वजह से सिंधी समाज को 70 वर्षो के बाद बड़ी राहत सरकार द्वारा प्रदान की गई है।

इसी कार्यक्रम के दौरान पाकिस्तान से भारत आकर बसे लोगो को नागरिकता भी प्रदान की जायेगी। नागरिकता हासिल होने के प्रश्न को लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी के साथ नागपुर के सिंधी समाज के प्रतिष्ठित लोगो ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर निवेदन दिया था। इस पर केंद्र सरकार ने सकारात्मक फैसला लेते हुए 7 वर्ष से अधिक का समय बिता चुके लोगो को नागरिकता देने का फैसला लिया गया।

जिस शहर में आईबी का सेंटर है वह यह फैसला लेने का अधिकार जिलाधिकारी को दिया गया है। इस फैसले के तहत नागपुर में सोमवार को ही केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी 97 लोगो को नागरिकता भी प्रदान करेंगे।