Published On : Sat, Jul 25th, 2020

नागपुर में जनता कर्फ्यू के पहले दिन सड़कों पर रहा सन्नाटा, जगह-जगह पुलिस बंदोबस्त

नागपुर: नागपुर शहर में जनता कर्फ्यू के पहले दिन जनता का उत्सफुर्त प्रतिसाद मिला । जनता ने स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए महानगरपालिका के आह्वान पर अपने-आप को नियंत्रित कर जनता कर्फ्यू को सफल बनाया। कोरोना संक्रमण बढ़ने से नागपुर शहर में भी लॉकडाउन करने की नौबत आन पहुंची है। इस स्थिति से निपटने के लिए जनप्रतिनिधि और अधिकारियों के बीच हुई बैठक में दो दिवसीय जनता कर्फ्यू का निर्णय लिया है। शनिवार को पहले दिन उत्सफूर्त प्रतिसाद मिलने पर महापौर संदीप जोशी ने शहर की जनता का आभार माना और आगे भी इसी तरह प्रतिसाद देकर शहर को कोरोना मुक्त करने का आह्वान किया। रविवार 26 जुलाई को भी शहर में जनता कर्फ्यू है।

लॉकडाउन शिथिल होने पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सरकार ने जारी किए दिशा-निर्देशों का नागरिकों द्वारा पालन नहीं किए जाने से प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। बाजारों में बढ़ती भीड़, मास्क लगाने में बरती जा रही लापरवाही, सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन कोरोना संक्रमण बढ़ने की प्रमुख वजह मानी जा रही है। इसे नियंत्रित करने के लिए शहर लॉकडाउन करने की नौबत तक पहुंच गया है। इस विषय पर जनप्रतिनिधि और अधिकारियों की राय जानने के लिए शुक्रवार को मनपा में एक बैठक बुलाई गई। जनप्रतिनिधियों ने लॉकडाउन करने पर असहमति दर्शाते हुए जनता के बीच जनजागरण करने का विकल्प रखा। जनता कर्फ्यू के माध्यम से जनता को सहभागी करने का सुझाव दिया गया। इस विषय पर आम सहमति से दो दिवसीय जनता कर्फ्यू का निर्णय लिया गया। शहर के सभी बाजारों में व्यापारियों ने दुकानें बंद रखी। सड़कों पर इक्का-दुक्का लोग नजर आए। जनता कर्फ्यू का पहला दिन 25 जुलाई को शहर के नागरिकों का अच्छा खासा प्रतिसाद मिला।

महापौर ने किया मुआयना
जनता कर्फ्यू का महापौर संदीप जोशी ने शहर के विविध इलाकों में घूमकर मुआयना किया। इस दौरान बेवजह सड़क पर घूमनेवालों को उन्होंने समझाइश देकर वापस घर लौटा दिया। जो लोग बिना मास्क के मिले, उन्हें मास्क, जरूरतमंदों को भोजन, नाश्ते के पैकेट दिए। अत्यावश्यक सेवा की जगह लोगों की भीड़ दिखाई देने पर उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का आह्वान किया। बड़कस चौक, जरीपटका, शंकर नगर, रामदासपेठ, झांसी रानी चौक, वेरायटी चौक, सदर, इंदोरा, इतवारी, पांचपावली, गांधीबाग, महल, यशवंड स्टेडियम तथा शहर के अन्य इलाकों का दौरा कर जनता कर्फ्यू की स्थिति का जायजा लिया।

ताकिस फिर से लॉकडाउन की नौबत न आए
जनता के सहयोग से कोरोना संक्रमण की रोकथाम का उपाय है। नागरिकों को अपनी मानसिकता बदलने का अवसर है। लोगों को बिना वजह घर से बाहर नहीं निकलने का संदेश देने के लिए उठाया गया कदम है। कोरोना संक्रमण से अपने और दूसरों का बचाव करने के लिए आगे भी नागरिकों को कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए, ताकि शहर पर लॉकडाउन की नौबत न आए — संदीप जोशी, महापौर