Published On : Sat, Sep 19th, 2020

राजकुमार राठी की लैब के विरोध में शिवसेना का प्रदर्शन

Covid-19 टेस्टिंग के नाम पर लैब पर लूटने का आरोप

नागपुर- ‘ आपदा में अवसर ‘ को सही तरीके से सच करने में कई लोग जुट गए है. एक तरफ देश में लाखों कोरोना के मरीज हो चुके है, नागपुर शहर में भी 60 हजार के लगभग पॉजिटिव मरीज हो चुके है. ऐसे में भी नागपुर के कई लैब संचालक कोविड़ टेस्टिंग के नाम पर शहर के नागरिकों को लूट रहैै है. अभी कुछ दिन पहले ध्रुव लैब में भी नागरिकों को लूटने का मामला सामने आया था और उसके बाद इस लैब समेत दूसरे लैब्स पर अन्य अनियमिताओ को लेकर जुर्माना लगाया गया था, ऐसा ही एक दूसरा मामला नागपुर शहर में सामने आया है.बर्डी पुलिस स्टेशन के पिछे लता मंगेशकर हॉस्पिटल है, जहां पर राजकुमार राठी की लैब को तत्कालीन मनपा आयुक्त तुकाराम मुंढे ने कोविड़ टेस्टिंग के रूप में शुरू किया था, लेकिन यहाँपर कोविड़ टेस्टिंग के लिये 2500 रुपए लिए जा रहे है और रसीद 2 हजार रुपए की दी जा रही है. इस लूट के खिलाफ शिवसेना के विधायक दुष्यंत चतुर्वेदी और शिवसेना के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने इस लैब के खिलाफ प्रदर्शन कर इस पर सख्त कार्रवाई की मांग की है.

इस दौरान बताया गया कि कोविड़ टेस्टिंग के लिए 2500 रुपए लिए जा रहे है, जबकि नियमों के हिसाब से केवल 1600 रुपए लगने चाहिए. लैब संचालक की ओर से शहर के नागरिकों के साथ धोखा किया जा रहा है. ऐसा आरोप शिवसेना की ओर से लगाया गया है.