Published On : Fri, Jan 20th, 2017

शेखर सावरबांधे की शिवसेना में वापसी


नागपुर :
शिवसेना के पूर्व जिला प्रमुख शेखर सावरबांधे की घर वापसी हुयी है। वर्ष 2014 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी से बगावत कर सावरबांधे ने पूर्व नागपुर से चुनाव लड़ा था। जिसके बाद पार्टी ने उन्हें निलंबित कर दिया था। शुक्रवार को मुंबई स्थित मातोश्री में शेखर सावरबांधे ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात पर फिर एक बार पार्टी में प्रवेश किया।

नागपुर में फ़रवरी में होने वाले महानगर पालिका चुनाव से पहले सावरबांधे को अपनाने में पार्टी ने भी रूचि दिखाई। पार्टी प्रमुख ने शुक्रवार को सावरबांधे को मिलने का समय दिया था इसी दौरान शिवबंधन बांधकर उनका पार्टी में स्वागत किया। शेखर सावरबांधे ने अपनी घर वापसी पर कहा कि पार्टी की आपत्ति के बाद भी उन्होंने चुनाव लड़ा था जिस वजह से उन्हें निलंबित किया गया था। लेकिन इसके बाद भी वह किसी पार्टी में नहीं गए इसलिए उनकी अपनी पार्टी के रास्ते खुले ही थे।

एक महीने पहले उन्होंने शिवसेना प्रमुख को जिला प्रमुख सतीश हरड़े के अनुमोदन के साथ ईमेल भेज कर घर वापसी की इच्छा जाहिर की थी जिसे मान लिया गया। सावरबांधे के मुताबिक वह आगामी मनपा चुनाव में पार्टी पदाधिकारियों के साथ मिलकर पार्टी को चुनाव में सफल बनाने का प्रयास करेंगे। शेखर सावरबांधे को फ़िलहाल कोई पद पार्टी में नहीं दिया गया है। उनके पार्टी में प्रवेश के दौरान सांसद अनिल देसाई, विधायक अनिल परब, पार्टी के जिला संपर्क प्रमुख तानाजी सावंत, जिला प्रमुख सतीश हरड़े और शहर प्रमुख मंगेश काशीकर आदि मौजूद थे।