Published On : Sat, Jan 17th, 2015

अमरावती : आरक्षण के लिए सीएम को भेजेंगे 20 हजार पत्र


एआयएमआइएम छेड़ेगी अभियान

M I M
अमरावती।
राज्य में आघाडी सरकार ने मराठा के साथ मुस्लिम समाज को 5 फीसदी आरक्षण दिया था, किंतु युती सरकार ने मराठा आरक्षण को कायम रखा और मुस्लिम आरक्षण को कानुनी सलाह लेने का बहाना कर रद्द कर दिया.

राज्य में मुस्लिम समाज आर्थिक, शैक्षणिक व सामाजिक क्षेत्र में अन्य वर्गो की तुलना में पिछड़ा हुआ है. जिसे आरक्षण मिलना ही चाहिये, इस मांग को राज्य शासन व मुख्यमंत्री देवेद्र फडणवीस तक पहुंचाने के लिए अमरावती शहर एआयएमआइएम की ओर से जल्द ही अभियान छेड़ा जा रहा है. इस अभियान में जिले भर से करीबन 20 हजार पत्र सीएम फडणवीस को भेजे जाएगे. इन पत्रों में  मुस्लिम आरक्षण की जरुरत क्यो है, इस बारे में सीएम को अवगत कराया जाएगा. 25 व 26 जनवरी से इस अभियान की शुरुवात होगी. मंगलवार को होटल श्रीपद में आयोजित एमआइएम की बैठक में यह निर्णय लिया गया. एमआइएम के शहराध्यक्ष अ.नाजीम की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में एमआइएम सदस्यता मुहिम चलाने, कार्यकर्ताओं को जोडऩे व पक्ष को और अधिक मजबूत बनाने संबंध में चर्चा हुई.

राशीद अथर ने कहा कि 4 माह से गरीबों को राशन नहीं मिल रहा है, राशन दूकानों से अनाज तत्काल मिलने के लिए जल्द ही संगठन जिलाधिकारी को ज्ञापन देगी. प्रत्येक सदस्य को साथ लेकर पार्टी को और अधिक ताकतवर व मजबूत किया जाएगा. इस समय खालीद पटेल, शहजाद खान, सै.इरशाद अली, मो.इकबाल, मो.उस्मान, नाजीम सुफी, रिजवान खान, राशीद अतहर, एजाज काजी, अफजल खान उपस्थित थे.