Published On : Wed, Dec 10th, 2014

उमरेड : दुय्यम निबंधक पर भ्रष्टाचार का मामला दर्ज

 

  • 60 हजार रुपये की रिश्वत स्वीकारने की तैयारी के मिले सुराग
  • वर्धा एसीबी की टीम ने की जाँच-पड़ताल

Krushna Raut Bribe
उमरेड (नागपुर)। फरियादी से 6 प्लॉटों की बिक्री करारनामा व आममुखत्यार पत्र की रजिस्ट्री करने के लिए प्रत्येक प्लॉट का 10 हजार रुपये के हिसाब से 60 हजार रुपये की रिश्वत माँगी गई. रिश्वत स्वीकार करने की तैयारी के सुरागों के आधार पर अंतत: एसीबी ने एक दुय्यम निबंधक के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, एक फरियादी से 6 प्लॉटों की बिक्री करारनामा व आममुखत्यार पत्र की रजिस्ट्री करवाने के लिए दुय्यम निबंधक कार्यालय, उमरेड पहुँचा. जहां उसे दुय्यम निबंधक कृष्णा लक्ष्मण राऊत ने प्रत्येक प्लॉट का 10 हजार रुपये के हिसाब से 60 हजार रुपये की रिश्वत माँगी. उसने इसकी शिकायत एसीबी, नागपुर से कर दी. टीम के 2 दिसम्बर को सघन जाँच-पड़ताल करने पर फरियादी से उक्त रिश्वत की रकम स्वीकारने की तैयारी करने के सुराग मिले. उसी के आधार पर दुय्यम निबंधक कृष्णा राऊत के खिलाफ भ्रष्टाचार प्रतिबंधक अधिनियम 1988 के तहत मामला दर्ज कर उमरेड पुलिस (नागपुर ग्रामीण) आगे की जाँच कर रही है.

यह कार्यवाही पुलिस उपअधीक्षक, एसीबी, वर्धा, पुलिस निरीक्षक आसाराम शेटे, विलास खनके, अजय यादव, चंद्रनाग ताकसांडे की टीम ने की.