Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Jan 10th, 2015
    Vidarbha Today | By Nagpur Today Vidarbha Today

    देसाईगंज शहर में छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव से हो रही है सुगंधित तंबाकू की तस्करी


    देसाईगंज (गड़चिरोली)।
    गड़चिरोली जिले का मुख्य बाजार कहलानेवाला देसाईगंज शहर इन दिनों सुगंधित तंबाकू की तस्करी का गढ़ बनता जा रहा है. छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव से चिलाटी-कोरची, कुरखेड़ा से होकर यह तंबाकू देसाईगंज शहर में तस्करी द्वारा बड़े पैमाने पर लाया जा रहा है. विशेष बात यह ही कि यह सारा रास्ता संवेदनशिल, अतिदुर्गम तथा नक्सलप्रभावित होने के बावजूद यह व्यवसाय बेरोकटोक जारी है. इस रास्ते में पुलिस स्टेशन तो है लेकिन एक भी सीमा सुरक्षा चौकी न होने का फायदा सुगंधित तंबाकू के तस्कर उठा रहे है.

    राजनांदगांव के तस्करी द्वारा लाया जा रहा सुगंधित तंबाकू मुख्य विक्रेताओं के घरों के समीप बने गोदामों में रातोंरात खाली कर वहीं से खुदरा व्यवसायियों को रातोरात सप्लाई किया जाता है. यह पुरा कारोबार देसाईगंज से पुरे जिले मकड़ी के जाल की तरह फैला हुआ है. सिर्फ गड़चिरोली जिला ही नही बल्कि आसपास सटे भंडारा, चंद्रपुर जिले के समीपस्थ गावों में सप्लाई किया जाता है. राजनांदगांव से वडसा तक़रीबन 145 किमी की दुरी पर है. जिसे पहुंचने तक़रीबन 3 से 4 घंटे का समय लगता है. इस व्यवसाय में रोजाना नई-नई गाड़ियों का इस्तेमाल किया जाता है. राजनांदगांव में सुगंधित तंबाकू के बॉक्स का रेट तक़रीबन 17 हजार रूपए है. जिसे शहर में 18 हजार पाचसौ रूपए तक बेचा जाता है. एक बॉक्स में 200 ग्राम के 40 डिब्बे आते है. एक खेप में 70 से 20 लाख रूपए मुल्य की 100 से 120 बॉक्स की रोजाना बिक्री होने की खबर है.

    तस्करों ने किया टीम का गठन
    सूत्रों से मिली जनकारी के अनुसार बिना रोकटोक इस काले कारोबार को चलाने के लिए सफ़ेदपोश सुगंधित तंबाकू माफियाओं ने एक टीम का गठन किया हुआ है तथा इनकी पिछले कुछ समय में कई बैठकें होने की सूत्रों द्वारा जानकरी प्राप्त हुई है. यह टीम स्थानीय पुलिस तथा अन्न औषध प्रशासन से सिस्टम के तहत जुडी होने की वजह से उनपर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. एक ओर छोटे पानटपरियों को नोटिस भेजकर कार्रवाई की धमकी दी जाती है. वहीं दुसरीओर बड़े माफियाओं को संरक्षण प्राप्त होने की जानकारी है.

    गृह राज्यमंत्री प्रा. राम शिंदे से संपर्क करनेपर इस संदर्भ में खुद को अनभिज्ञ बताते हुए स्थानीय पुलिस उपविभागीय अधिकारी सचिन पांडुकर से मामले की जानकारी प्राप्त कर कार्रवाई करने के संकेत दिए.

    अवैध तंबाकू व्यवसायीयोंपर पुलिस व अन्न प्रशासन गंभीरता से कार्रवाई करे – विधायक गजबे
    विधायक गजबे से संपर्क किए जानेपर उन्होंने इस तस्करी को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. साथ ही सुगंधित तंबाकू से मुख कैंसर जैसे रोग होते है. इस तंबाकू पर लगी पाबंदी को गंभीरता से लेते हवे पुलिस तथा विभाग द्वारा कड़ाई से पालन करते हुए कार्रवाई करनी चाहिए.

    Drugs Tobaco

    File Pic


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145