Published On : Thu, Aug 18th, 2016

नागपुर का पहला डॉन हरिशचंद्र धावडे का वोकहार्ट अस्पताल में निधन

Advertisement

Harishchandra-Dhawde-600x300

नागपुर: नागपुर का पहला डॉन, गैंगस्टर, सट्टा किंग हरिशचंद्र धावडे का गुरुवार की रात 8:45 बजे वोकहार्ट अस्पताल में निधन हो गया। यह घटना 18 अगस्त 2016 की है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार धावडे कुछ दिनों से फेफड़े की बीमारी से पीड़ित था। वही वोकहार्ट अस्पताल में धावडे का विगत दो माह से इलाज चल रहा था। गुरुवार की शाम को उसकी हालत अचानक बिघडी। जहां 8:45 बजे उसकी मौत हो गई। उसके छोटे भाई अनिल धावडे ने उसके निधन के समाचार की पुष्ठि की।

Advertisement

धावडे परिवार सेंट्रल अवेन्यू रोड के पास गारोबा मैदान के पास धावडे मोहल्ले के निवासी है। उसका निवास स्थान शहर के अंडरवर्ल्ड का एक प्रमुख हिस्सा माना जाता है। धावडे का निवास स्थान कई कुख्यात गुंडों को पनाह देने वाला स्थान हुआ करता था और आम जनता को प्रवेश से वर्जित था।

हरिशचंद्र धावडे का अंतिम संस्कार शुक्रवार 19 अगस्त 2016 को शाम 4:00 बजे गंगाबाई घाट में संपन्न होगा।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement