Published On : Tue, May 12th, 2020

नागपुर के संकेत तिवारी ऑस्ट्रेलिया में विश्वस्तरीय गायन स्पर्धा के अंतिम दौर में पहुंचे

नागपूर– नागपुर का युवा गायक ऑस्ट्रेलिया में रहकर अपने देश तथा शहर की शान बढ़ा रहा है. देखा जाए तो, समूचे विश्व मे आज कोरोना वायरस जमकर कहर बरपा रहा है वही दुसरी ओर अपने घरों में नियमो का पालन कर क्वारंटाइन में रहकर कुछ उम्दा कलाकार अपनी कला का अद्भुत प्रदर्शन कर भारत देश का नाम देश-विदेश में ऊंचा कर रहे है.

नागपुर के नरेंद्रनगर इलाके में रहनेवाले संकेत राजेश तिवारी ने 2012 में प्रियदर्शिनी कॉलेज से इलेक्ट्रॉनिक में इंजीनियरिंग की पदवी हासिल की. इसके बाद वे टीसीएस कंपनी, पुणे में सॉफ्टवेयर इंजीनियर पदपर जॉइन हुए. कुछ दिनों तक टीसीएस पुणे में रहने के बाद वे आज सिडनी, ऑस्ट्रेलिया में सीनियर सॉफ्टवेयर एनलिस्ट इस पदपर कार्यरत है. संकेत को बचपन से शास्त्रीय संगीत की शिक्षा उनकी माता स्वर्गीय- भारती तिवारी से मिली उनकी माता खुद शास्त्रीय संगीत में विशारद ( पंडित ) थी. जिनके सानिध्य में रहकर संकेत ने संगीत की साधना हासिल की. आज उसी साधना के बल पर संकेत सिडनी, ऑस्ट्रेलिया में नागपुर और भारत देश का परचम लहरा रहा है. संकेत शुरू से ही सिडनी के मशहूर संगीत ग्रुप “DYZR MUSICAL BAND” से जुड़े है. जिसके जरिये उन्होंने अबतक सैकड़ो शो किये है. बताया जाता है कि, वे सिडनी में कई चर्चित हिंदी रेडियो स्टेशन में भी अपनी गज़ल गायकी भी पेश कर चुके है जहां लोगो ने उन्हें काफी सराहा भी है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार संकेत तिवारी ने यू ट्यूब चैनल में “ब्लू बर्ड इवेंट लिमिटेड कंपनी” द्वारा आयोजित एक विश्वस्तरीय गायन प्रतियोगिता में हिस्सा लिया है. जिसमे विश्व के लाखों प्रतियोगियों में से पहले टॉप 60 में उनका सिलेक्शन हुआ, उसके बाद टॉप 60 में से अब उनका सिलेक्शन टॉप 20 में हो चुका है. अब वे अंतिम दौर ( final ) की स्पर्धा में पहुंच चुके है. जिसके जज महान भजनसम्राट पद्मश्री अनूप जलोटा है.

इस स्पर्धा का आयोजन विश्व की नामचीन ब्लू बर्ड इवेंट प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ने किया है. जिसका संचालन उभरती मधुर प्रख्यात गायिका प्रतिभासिंग बघेल कर रही है. प्रतिभासिंग बघेल खुद सारेगामापा की विनर रही है. फिलहाल वे मशहूर संगीतकार और गायक शंकर महादेवन, ऋचा शर्मा के समूह में रहकर अपनी कला का प्रदर्शन कर देश विदेश में कर भारत देश का नाम रोशन कर रही है.