Published On : Fri, Aug 24th, 2018

सेंट जॉन स्कूल विद्यार्थी आत्महत्या कोशिश मामला : बजरंग दल ने किया शिक्षणाधिकारी का घेराव

Advertisement

नागपुर – मोहननगर स्थित सेंट जॉन स्कूल में शिक्षक की प्रताड़ना से त्रस्त होकर दसवीं क्लास के विद्यार्थी ने फिनाईल पीकर सुसाइड करने की कोशिश की थी. जिसके बाद न तो इस मामले में जरीपटका पुलिस ने एफआईआर दर्ज की और न ही स्कूल कमिटी ने शिक्षक पर निलंबन की कार्रवाई की. जबकि शिक्षणाधिकारी डॉ. एस. एन. पटवे ने स्कूल को आदेश भी दिए थे. कार्रवाई नहीं करने से नाराज बजरंग दल के पदाधिकारियो और कार्यकर्ताओ ने और आरटीई एक्शन कमेटी के पधाधिकारियों ने गुरुवार को शिक्षणाधिकारी का घेराव किया और दोषी शिक्षक और स्कूल के सुपरवाइजर पर कार्रवाई की मांग की है. ख़ास बात यह है कि स्कूल को कार्रवाई का पत्र भेजे जाने के बाद भी स्कुल द्वारा कोई भी कार्रवाई नहीं की जा रही है. आरटीई एक्शन कमेटी के चेयरमैन मोहम्मद शाहिद शरीफ ने भी इस दौरान शिक्षणाधिकारी से कार्रवाई की मांग की है.

शरीफ ने बताया कि पिछले हफ्ते ही स्कूल को शिक्षणाधिकारी की ओर से कार्रवाई का पत्र दिया गया था. उसमें दोषी शिक्षक को निलंबित करने के लिए भी कहा गया था. लेकिन स्कूल मैनेजमेंट ने अब तक कार्रवाई नहीं की है. पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज नहीं हुई है. उन्होंने बताया कि स्कूल में मान्यता प्राप्त प्रिंसिपल भी नहीं है. शिक्षणाधिकारी का घेराव किया गया था. उप शिक्षणाधिकारी को भी निवेदन सौपा गया. स्कूल में प्रशासक की नियुक्ति करनी चाहिए.

Advertisement
Advertisement

निष्पक्ष जांच हो और निष्पक्ष जांच के लिए शिक्षक को निलंबन करना जरूरी है. उन्होंने बताया कि शिक्षणाधिकारी के आदेश के बाद भी कार्रवाई नहीं की जा रही है.

इस बारे में सेंट जॉन स्कुल के प्रिंसिपल पैट्रेस तिर्की से संपर्क करने पर उन्होंने बताया की इस पुरे मामले में शिक्षक की कोई भी गलती नहीं है. इसलिए कार्रवाई नहीं की गई है. ऐसा ही एक पत्र शिक्षणाधिकारी को भी भेजा जा रहा है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement