| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Jun 25th, 2020

    केलवद और खुर्सापार के चेकपोस्ट पर आरटीओ अधिकारियों द्वारा गुंडों के माध्यम से वसूली

    नागपुर- उत्तर नागपुर भारतीय जनता पार्टी के पंकज यादव और ट्रांसपोर्ट मालिकों की ओर से नागपुर ग्रामीण के पुलिस अधीक्षक राकेश ओला को केलवद और खुर्सापार के आरटीओ चेकपोस्ट में अवैध वसूली को लेकर निवेदन दिया गया है. इसमें ट्रांसपोर्ट मालिकों की ओर से कहा गया है की वे कई सालो से अनाज का परिवहन करते है. जिसके कारण ट्रक नागपुर से माल लेकर मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, छत्तीसगढ़ खाद्यान लेकर जाते है और इन्हे महाराष्ट्र के बॉर्डर पर चेक पोस्ट केलवद और खुर्सापार के कांटे के ऊपर से गुजरना पड़ता है. सरकारी नियमों के अनुसार काम किया जाता है.गाडी का वजन, गाड़ियों के कागजात सभी नियमों के अनुसार ही होता है.

    कोरोना महामारी के बीच में सरकार ने नियम के अनुसार किसी भी गाड़ी के पेपर आरटीओ चेकपोस्ट पर चेक नहीं किए जाने की छूट दी है. फिर भी आरटीओ चेक पोस्ट पर काँटा होने के बाद आरटीओ अधिकारी के इशारे पर आपराधिक किस्म के लोग सरकारी काम की आड़ में अवैध तरीके से जबरन वसूली कर रहे है. ट्रांस्पोर्टरों का कहना है की जब भी इनकी गाड़िया चेक पोस्ट पर जाती है, सभी कागजात और कांटे का वजन सही होने के बावजूद भी पैसे के लिए ड्राइवर और क्लीनर को धमकाया जाता है. ट्रक ड्राइवर द्वारा पैसे नहीं देने पर यह अपराधी किस्म के लोग हाथापाई पर उतर जाते है. इसलिए इनके ड्राइवर काफी डरे हुए है और गाड़िया चलाने के लिए मना कर रहे है. इन ड्राइवरो को जान का खतरा है. इनका कहना है की जब इन्होने इस विषय में चेकपोस्ट के आरटीओ अधिकारियों से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने इनकी बात सुनने से इंकार कर दिया. वे इन ट्रांसपोर्टरों को सरकारी काम में बाधा डालने के नाम पर केस दर्ज करने की धमकी देते है और पुलिस रिपोर्ट करने की धमकी देते है. इनका कहना है की इन आरटीओ अधिकारियों से वे त्रस्त हो चुके है..

    इन सभी ट्रांसपोर्टरों द्वारा पुलिस अधीक्षक राकेश ओला से निवेदन किया गया है की इस अवैध वसूली को रोका जाए और केलवद और खुर्सापार आरटीओ चेकपोस्ट के आपराधिक प्रवर्र्ती के लोगों पर कार्रवाई की जाए.इस दौरान संतोष पटेल, हरजीतसिंह गुरुदत्ता, प्रभोजितसिंह धुत्त,विशाल शकते,हीरालाल वंजारी, महिंद्र ठवरे और प्रशांत शुकला शामिल थे.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145