Published On : Sat, Apr 18th, 2015

अमरावती : सारथी में 6 लाख की सेंध


तीसरी बार दुस्साहसी चोरी

18 Chori
अमरावती। शहर के हद्यस्थल माने जाते जवाहर रोड के सारथी शोरुम में दुस्सहासी चोरी को अंजाम देकर चोरों ने एक बार फिर शहर पुलिस को चैलेंज किया है. 24 घंटे पुलिस गश्त से व्यस्त रहने वाले मार्ग पर लगातार तीसरी बार चोरी कर पुलिस की कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह निर्माण कर दिये है. इस चोरी से व्यापारियों में भी प्रतिष्ठानों की सुरक्षा को लेकर चिंताए बढ़ गई है. सारर्थी शोरुम में सेंध लगाकर 5.70 लाख कैश समेत रेडिमेड कपडों पर हाथ साफ किया गया है.

लॉक तोड़ निकाली कैश
सिंधु नगर निवासी महेश टेकचंद पिंजानी व्दारा संचालित सारर्थी शोरुम में शादी ब्याह के कपड़े समेत किड्स वेअर व  इन्डोवेस्टर्न रेडिमेड कपडों का व्यवसाय होता है. शुक्रवार की रात दिनभर के व्यवसाय की कैश शोरुम के लॉक में रखकर वह घर चले गये. शनिवार की सुबह 10.30 बजे मैनेजर महेश दलवानी ने शोरुम खोला, तो उन्हें लॉक टुट हुआ दिखाई दिया, वहीं रेडिमेड कपडे इधर-उधर बिखरे पड़े थे. सूचना पर महेश पिंजानी, डीसीपी भालेराव गावराने, एसीपी कमलाकर, पीआइ दिलीप इंगले व क्राइम ब्रांच के अधिकारी फौज फाटे के साथ वहां पहुंचे.

तीसरी मंजील से इन्ट्री
चोरों ने तखतमल की बिल्डींग से शोरुम की तीसरी मंजील पर प्रवेश किया. यहां चैनल गेट का ताला तोडक़र अंन्दर आये. तीसरी व दूसरी मंजील के करीबन 5 तालों को पेंचक्स व कैची से तोड़ डाला. जिसके पश्चात लॉक को तोडक़र उसमें से 5 लाख 70 हजार से अधिक कैश उड़ा ली. इसी तरह रेडिमेड कपड़ों के थैलों पर भी हाथ साफ किया. पुलिस ने ऊपरी मंजील से पेचक्स, कैची व 5 टुटे ताले जब्त किये है.

दो वर्ष पहले भी मारा हाथ
लगातार तीसरी बार सारथी शोरुम को चोरों ने निशाना बनाया है, किंतू एक बार भी चोर पुलिस के हाथ नहीं लग पाये. वर्ष 2010 में चोरों ने 70 हजार कैश उड़ाई थी, जबकि वर्ष 2013 में दो लाख के कपड़े चुराये थे. इन चोरियों में कोतवाली पुलिस ने केवल खानापूर्ति के लिए मामले दर्ज किये, लेकिन चोरों के बारे में कोई सुराग जुटा नहीं पाये.