Published On : Thu, Oct 3rd, 2019

केंद्रीय भूमिजल बोर्ड नागपूर द्वारा प्लास्टिक कचरे से मुक्त देश बनाने का संकल्प और श्रमदान

Advertisement

नागपुर : केंद्रीय भूमिजल बोर्ड के नागपुर कार्यालय ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150 वीं जयंती पर उन्हे श्रंद्धांजली अर्पित करते हुए स्वच्छता दिवस मनाया । इस अवसर पर कार्यालय प्रमुख डॉ॰ पी के जैन सहित सभी अधिकारियों और कर्मचारियों ने भारत देश को प्लास्टिक कचरे से मुक्ति दिलाने हेतु “स्वच्छता संकल्प” भी लिया ।

डॉ॰ जैन ने आज से कार्यालय परिसर को “सिर्फ एक बार उपयोग में लाये जाने वाले प्लास्टिक से मुक्त” कार्यालय भी घोषित किया । श्री कल्याण जाटव, कार्यपालक अभियंता तथा सभी वरिष्ठ अधिकारियों व कर्मचारियों सहित ने लगभग तीन घंटे तक श्रमदान कर सिविल लाइन क्षेत्र तथा एन एस बिल्डिंग से प्लास्टिक कचरा एकत्र किया ।

Advertisement

कार्यक्रम संचालक डॉ॰ रजनी कान्त शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया की देश में प्रति वर्ष लगभग 95 लाख टन प्लास्टिक कचरा उत्पन्न होता है जिसमें से लगभग 38 लाख टन प्लास्टिक कचरा पर्यावरण में विभिन्न जगहों पर जैसे नदियों, नालों तथा खाली पड़ी ज़मीनों पर पहुँच जाता है जो कि न सिर्फ पर्यावरण के लिए बल्कि मानव स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक है ।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisementss
Advertisement
Advertisement
Advertisement