Published On : Fri, Jan 18th, 2019

रामझूला उड़ान पूल के दूसरे चरण का उद्धघाटन हुआ मुख्यमंत्री के हाथों

नागपुर : पूर्व-पश्चिम नागपुर को जोड़ने वाली संतरा मार्केट स्थित केबल स्टैंड रामझूला रेलवे उड़ान पुलिया के दूसरे चरण का उद्धघाटन आज मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों किया गया. उक्त उड़ान पुलिया के शुरू होते ही वर्षों से नागपुर की जनता की मांग पूरी हुई. इस उड़ान पुलिया के शुरू होने से रेलवे स्टेशन के सामने बाधित होने वाली यातायात की समस्या समाप्त होने की उम्मीद जताई जा रही है.

पुलिया उद्धघाटन समारोह की अध्यक्षता केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने की. प्रमुख अतिथि के रूप में राज्य के लोकनिर्माण मंत्री एकनाथ राव शिंदे, जिले के पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, महापौर नंदा जिचकर, सांसद विकास महात्मे, विधायक सुधाकर देशमुख, डॉ.‍ मिलिंद माने, सुधाकर कोहळे, मनपा सत्तापक्ष नेता संदीप जोशी, जिलाधिकारी अश्विन मुदगल, महापालिका आयुक्त अभिजित बांगर, मुख्य अभियंता उल्हास देबाडवार, मुख्य अभियंता सुधाकर मुरारे, अधीक्षक अभियंता उज्ज्वल डाबे, मनोज मालेवार, पूर्व महापौर प्रवीण दटके आदि थे.

रामझूला के पूर्व की पुलिया अंग्रेजों के ज़माने की थी. जिसका नए सिरे से निर्माण के लिए रेलवे प्रशासन ने मंजूरी दी थी. इस रामझूला पुलिया निर्माण पर ६९.६२ करोड़ खर्च किया गया.

उक्त प्रकार की केबल स्टैंड पुलिया राज्य में नागपुर और मुंबई के अरब सागर पर निर्माण किया गया. दोनों पुलिया का निर्माणकार्य महाराष्ट्र सड़क विकास महामंडल के देखरेख में किया गया. इसका निर्माण मेसर्स एफकॉन इंफ़्रा लिमिटेड मुंबई ने किया तो इस रामझूले के निर्माण के प्रकल्प सलाहकार मेसर्स राइट्स लिमिटेड है. पुलिया की लंबाई ६०६.७४२ मीटर तो केबल स्टैंड की लम्बाई २०० मीटर है.