Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Apr 28th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    कुदरत की विनाशलीला, तूफान बारिश और ओलावृष्टि का कहर

    बिन मौसम बरसात से अन्नदाता मायूस

    गोंदिया: 27 अप्रैल सोमवार की शाम अचानक आसमान काले बादलों से घिर गया। कुदरत की विनाशलीला ने आंधी तूफान बारिश और ओलावृष्टि के साथ गोंदिया -भंडारा, गडचिरोली और चंद्रपुर इन 4 जिलों में जबरदस्त कहर बरपाया। गोंदिया जिले में तूफान की रफ्तार तकरीबन 100 किलोमीटर प्रति घंटे की थी , जिससे गरीब बस्तियों के कच्चे घरों के छप्पर और टीन शेड उड़ गए , जबकि पक्के घरों के स्लैब पर रखी पानी की टंकियां और उनके ढक्कन आंधी तूफान में उड़ गए। जिले के ग्रामीण इलाकों में किसानों के घरों के आंगन मे लगे दर्जनों पेड़ उखड़ गए कुछ जगहों पर वृक्षों के कच्ची दीवारों पर गिरने से , दीवारें और मवेशी गोठे क्षतिग्रस्त होकर गिरने से पालतू पशुओं के जख्मी होने की खबरें आ रही है । विद्युत पोल के धराशाई होकर गिर जाने से कई इलाकों की बिजली गुल हो गई ।

    कच्चे मकानों के छप्पर और टीन शेड उड़े

    तूफान आंधी और बारिश ने गोंदिया शहर में भी जमकर तबाही मचाई सड़क के चौराहों और मोहल्ले की विद्युत खंभों पर लगी होर्डिंग्स और पोस्टर ताश के पत्तों की तरह उड़कर सड़कों पर बिखर गए ‌जिससे कई जगह यातायात भी प्रभावित हुआ है। शहर के सिंगलटोली और भीम नगर इलाके के तीन कच्चे मकानों के छप्पर और टीन शेड उड़ गए। सूचना मिलने पर जिला शिवसेना समन्वयक पंकज यादव , पार्षद लोकेश (कल्लू) यादव , संदीप मेश्राम यह स्थिति का जायज़ा लेने पीड़ितों के घर पहुंचे ।

    विशाल धन्नालाल भीमटे , शीला नारायण बंसोड ,धनशीला अशोक डहाट के मकान का जायजा लेकर तहसीलदार गोंदिया को बोलकर हुए नुकसान का पंचनामा तैयार करवाया ताकि गरीब परिवारों को सरकार से आर्थिक मदद मिल सके।
    शहर के सुंदर नगर , भीम नगर कुंभारे नगर , संजय नगर , और नंगपुरा मुर्री जैसे इलाकों से भी कच्चे मकानों को काफी नुकसान होने की खबरें आ रही है।

    फसलों को नुकसान , मौसम विभाग का अभी भी अलर्ट
    तूफान बारिश और ओलावृष्टि का दौर थम गया है लेकिन अपने पीछे तबाही के कई मंजर छोड़ गया । जिला मौसम विभाग की मानें तो अलर्ट अभी भी जारी है। गोंदिया तहसील के धापेवाड़ा , खातिया में ओलावृष्टि होने की वजह से यहां रब्बी फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है। अर्जुनी मोरगांव तहसील के ग्राम सिरौली – महागांव और आसपास के कुछ गांव में बेर और कंचों के आकार के बर्फ के गोले आसमान से गिरने पर फसलें चौपट हुई है । आमगांव तहसील के कई इलाकों में भी ओलावृष्टि ने खेतों में खड़ी रब्बी फसलों को भारी नुकसान पहुंचाया है। बिन मौसम बरसात से अन्नदाता मायूस है तथा किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें छा गई है।

    आंधी- तूफान से मोबाइल टावर धराशाही
    गोंदिया जिले के अर्जुनी मोरगांव तहसील से लगे गड़चिरौली जिले के कुरखेड़ा में सोमवार शाम तेज आंधी तूफान के बीच रिहायशी इलाके में स्थापित बीएसएनएल का 100 फीट ऊंचा मोबाइल टावर धराशाही होकर गिर पड़ा।गनीमत रही कि हादसे के वक्त आंधी तूफान की वजह से लोग अपने घरों में कैद थे अन्यथा कई लोग इसकी चपेट में आकर जख्मी हो जाते। कुल मिलाकर आंधी- तूफान बारिश और ओलावृष्टि के चलते हर तरफ से नुकसान की खबरें आ रही है।

    रवि आर्य


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145