Published On : Wed, Jun 3rd, 2020

रेलवे ने यात्रियों को लौटाए 1885 करोड़ रुपए

नई दिल्ली/नागपुर: कोरोना वायरस महामारी के दौरान कैंसिल किए गए टिकटों के एवज में उत्तर रेलवे ने यात्रियों को 1885 करोड़ रुपये लौटा दिया है। इन ट्रेनों को भारतीय रेल ने देश भर में कोरोना वायरस महामारी के फैलाव को रोकने के लिए रद्द की थी।

उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने बताया कि इन टिकटों की बुकिंग 21 मार्च से 31 मई के बीच ऑनलाइन की गई थी। इस दौरान यात्रियों को पृरी रकम लौटायी गयी है। उन्होंने यह भी बताया कि रेलवे ने यह रकम उन अकाउंट्स में लौटा दिया है, जिसके जरिये टिकट खरीदे गए थे। इसके साथ ही रेलवे ने यह भी दावा किया है कि सभी रकम को तय समय सीमा के भीतर लौटाया गया है।

गौरतलब है कि रेलवे ने देश भर में कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए यात्री ट्रेनों का परिचालन रद्द कर दिया था। इस दौरान भारी संख्या में ट्रेनों को रद्द किया गया, जिसकी वजह से रेलवे को यात्रियों को उनके रकम वापस लौटाने में युद्धस्तर पर काम करना पड़ा।


एक जून से रेलवे चला रही है 200 विशेष ट्रेन
भारती रेलवे ने एक जून को 200 विशेष ट्रेन का परिचालन शुरू कर दिया। पहले दिन लगभग 1.45 लाख यात्रियों ने देश के अलग-अलग हिस्सों में सफर किया। अधिकारियों के मुताबिक करीब 60 फीसदी ट्रेन उत्तरी रेलवे के नेटवर्क पर दौड़ीं। 100 ट्रेन का या तो गंतव्य या फिर प्रस्थान स्टेशन उत्तरी रेलवे के दायरे में आता था, जबकि नौ ट्रेन उसके नेटवर्क से होकर निकलीं। वहीं, पश्चिमी रेलवे के नेटवर्क पर 34 विशेष ट्रेन का परिचालन हुआ।