Published On : Wed, Nov 8th, 2017

रैगिंग, लैंगिक शोषण को रोकने कॉलेज और यूनिवर्सिटी करे उपाययोजना


नागपुर: उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्रालय ने विद्यार्थियों के साथ हो रहे रैगिंग, लैंगिक शोषण के प्रति सुरक्षा और अत्याचार करनेवाले संबंधित विद्यार्थियों पर कार्रवाई को लेकर राज्य के सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को उपायोजना करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही घटित हुई घटनाओं पर 15 दिनों के भीतर कार्रवाई करने की जानकारी मांगी है.

नागपुर यूनिवर्सिटी ने भी उससे जुड़े सभी कॉलेजों को मंत्रालय की यह सूचना भेज दी है. इस सूचना में बताया गया है कि समाचार पत्रों और मीडिया के माध्यम से विद्यार्थियों के साथ रैगिंग, लैंगिक शोषण और अत्याचार की घटनाएं हो रही हैं, ऐसा राज्य में दिखाई दे रहा है. जिसके कारण विद्यार्थियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी कॉलेज प्रबंधन की है. सभी कॉलेजों को कॉलेज परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगाने की हिदायत दी गई है. शिक्षा संस्थान में पढ़नेवाले सभी विद्यार्थियों को आईकार्ड लगाना अनिवार्य किया गया है. शैक्षणिक परिसर में जरूरत की जगहों पर सुरक्षा गार्ड की नियुक्ति करने के आदेश भी दिए गए हैं.