Published On : Mon, Jul 26th, 2021

पब्लिकेशन कंपनी को लगाया 46.62 लाख का चूना

नागपुर. किताबें प्रकाशन करने वाली कंपनी से एक स्कूल संचालक और पुस्तक विक्रेता ने 46 लाख रुपए की धोखाधड़ी की है। स्कूल के लिए किताबें मंगवाकर पैसे नहीं दिए। इस मामले में कलमना पुलिस ने पंकज जीत सिंह (46) की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया है। वह झेंडा चौक, महाल का निवासी है। आरो पियों में डॉन बास्को पब्लिक स्कूल, सुरत, गुजरात के संचालक जनकराज मारूराम शर्मा, वसई पालघर में आरएससी बुक सेंटर के संचालक रणजीत शंभू चौधरी और पूर्व वसई, पालघर के सनरोज इंग्लिश स्कूल के संचालक सुरेंद्र सिंह जवाहिर का समावेश है।

पंकज की कलमना के चिखली लेआउट में सेल्स इंटरनॅशनल बीसीआय बुक्स पब्लिकेशन कंपनी है। 31 अप्रैल 2018 से 25 फरवरी 2020 के बीच उसने डॉन बास्को स्कूल के संचालक जनकराज शर्मा को 49.11 लाख रुपए की किताबें बेचीं थी। शर्मा ने 10 लाख रुपए और बाकि पैसे देने की मांग करने पर वह टालने लगा। पंकज ने जब बकाया राशि का भुगतान करने पर ज़ोर डाला तो जनकराज ने पैसे देने से इंकार कर दिया। इसी तरह चौधरी ने भी किताबों का आर्डर दिया लेकिन 2.25 लाख रुपए भुगतान करते समय वह टालने लगा।

पंकज ने पालघर जाकर खोजबीन की तो उसे पता चला कि आरोपी का दुकान 9 महिने से बंद है। सुरेंद्रसिंह जवाहिर का सनरोज स्कूल में भी 2.24 लाख रुपए की किताबें दी गईं, लेकिन जब पंकज ने पैसों की मांग की तो वह भी टालने लगा। तीनों मामलों में उसके साथ हुए विश्वासघात के चलते पंकज ने आखिरकार पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने इन घटनाओं में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है और जांच प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है।