| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, May 20th, 2020

    Video: रमज़ान है-रोजा है कोरोना जांच के लिए स्वैब नहीं देंगे,हॉट स्पॉट की 122 महिला ने मना किया

    हॉट स्पोर्ट की करीब 122 गर्भवती महिला ने जांच से मना किया,अभी तक 6 आ चुकी है पॉजिटिव,

    Tukaram Mundhe, CMD of PMPML

    नागपुर: महाराष्ट्र के नागपुर से एक अलग ही खबर सामने आ रही है ,महाराष्ट्र के नागपुर में 122 से अधिक गर्भवती महिला ने कोरोना जांच के लिए स्वैब देना से मना कर दिया है ,ये सब महिला नागपुर के सबसे पहले और सबसे पुराने 2 हॉट स्पोर्ट मोमिनपुरा और सतरंजीपुरा की रहने वाली है ,ये इलाका पूरी तरह से नागपुर का हॉट स्पोर्ट बना है और नागपुर में जो अभी तक कोरोना के मामले आये है 85 फीसदी मामले इसी इलाके के है ,नागपुर महानगर पालिका की टीम ने पहले 1200 फिर 800 लोगो को यहाँ से क्वारंटाइन किया है लेकिन अब ये महिलाएं स्वैब देने से साफ़ मना कर रही है।

    नागपुर का मोमिनपुरा और सतरंजीपुरा सबसे बड़ा कोरोना का हॉट स्पोर्ट है यहाँ कुल 300 से अधिक गर्भवती महिला है इन 300 में से 178 गर्भवती महिला ने अपना स्वैब दिया है जिसमे से 6 महिला कोरोना पॉजिटिव आयी है और इनका इलाज चल रहा है लेकिन अब करीब 122 गर्भवती महिला ने स्वैब देने से साफ़ इंकार कर दिया है और इसके पीछे तर्क दिया है की रमज़ान का महीना है और उनके रोज़े चल रहे है ऐसे में वो किसी को कोई भी जांच के लिए न तो नमूना देगी ना ही स्वैब ।

    नागपुर में इससे पहले भी 28 वर्षीय 1 गर्भवती महिला ने जांच के लिए स्वैब नहीं दिया था और जब बच्चे को जन्म देने के लिए अस्पताल पहुंची तो जांच में महिला कोरोना पॉजिटिव निकली और एक बच्ची को जन्म दिया ,और बच्ची माँ को अलग अलग रखा गया ,बच्ची की सेहत को ध्यान में रखकर वह दूर से ही अपनी बच्ची को देखकर संतोष कर लेती थी, 14 दिन बाद जब महिला को डिस्चार्ज किया गया और तब पहली बार उसने बेटी को गोद में लिया। मूल रूप से अमरावती की रहने वाली 28 वर्षीय मरीज मोमिनपुरा स्थित अपने मायके आई हुई थी।

    अब इस इलाके की गर्भवती महिलाओ का रमज़ान की वजह से स्वैब नहीं देना नागपुर स्वास्थ विभाग के लिए मुसीबत का सबब बन गया है और ये किसी समुदाय विशेष का होने की वजह से आस्था का भी प्रश्न है लेकिन कोरोना वायरस की रोकथाम करने के लिए और इन महिलाओ के साथ साथ महिलाओ के पेट में पल रहे बच्चो के स्वास्थ्य के लिए भी इन गर्भवती महिलाओ की जांच कराना जरूरी है जिसके चलते नागपुर महानगर पालिका के कमिश्नर और नागपुर के नोडल अधिकारी तुकाराम मुंढे ने जनता और इन महिला से अपील की है की ये सब जांच में सहयोग करे और अपने साथ साथ बच्चो की जान भी जोखिम में ना डाले।

    Ravikant Kamble

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145