Published On : Wed, May 12th, 2021

लॉकडाउन में फिर गरीब जरूरतमंद लोंगो को निजी एनजीओ से उम्मीद

Advertisement

नागपुर– नागपुर में पिछले वर्ष कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए कड़े लॉकडाउन के कारण लोगों का रोजगार छीन गया. कई लोगों पर भूखे रहने की नौबत आ गई थी.

ऐसे में नागपुर के निजी एनजीओ सामने आए और जरूरतमंद लोगों को और गरीब लोगों को खाना और राशन बाटना शुरु किया है. जिसके कारण शहर के हजारों गरीब लोंगो और जरूरतमंद लोगों को दो वक्त का खाना नसीब हुआ. इस वर्ष फिर वही आहट सुनाई देने की वजह से एक बार जरूरतमंद लोग एनजीओ की राह में है.

Advertisement
Advertisement

शहर में देखने मे आया है कि पिछले वर्ष निस्वार्थ भाव से शहर के एनजीओ ने लोगों को राशन पहुंचाया. नागरिक इस समय भी कह रहे है कि अगर शहर में एनजीओ नहीं होते, तो सरकार के भरोसे वे भूखे मर जाते. पिछले वर्ष में कई लोगों ने जरूरतमंद गरीबों की मदद की थी, तो कई लोग ऐसे भी है जो अब तक लोगों की मदद कर रहे है.

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisementss
Advertisement
Advertisement
Advertisement