Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Apr 17th, 2020

    पुलिस को कठोर भूमिका लेना जरुरी

    सडकों पर घुम रहे नागरिक

    नागपुर : नागपुर की सडके वीरान है, ९० प्रतिशत नागरिक घर मे बैठे है लेकिन कुछ लोग परिवार के साथ, युवा और सिनिअर सिटीझन्स सडकों पर घुमते नजर आ रहे है. डायमंड फाऊंडेशन के निरंजन माहुरे, विश्वनाथ बारापात्रे, संदीप लांजेवार, मोहित बुरसे, चंदू राजावार ने चिंता व्यक्त करते कहा लॉकडाउन के चलते लोग सडक पर घुम रहे है कोई छोटे बच्चों को लेकर परिवार के साथ, अनेक सिनिअर सिटीझन्स घुमते नजर आ रहे है. रात के समय युवकों का जमावडा सडकों पर दिखायी देता है. पुलिस की गाडी आती देख युवाओं की टोली गलियों से भाग जाती है.

    कुछ लोग अपने घर का परिसर छोड कर अनाज, किराणा लेने के नाम पर इतवारी, महल, सक्करदारा चले जाते है. सामाजिक कार्य बताकर पुलिस कर्मचारीयों को चकमा देकर दिन घुमते रहते है. कुछ लोग उद्यान, खेल के मैदान के पास घंटों तक टाईम पास करते है.

    आवश्यक सामग्री, भोजन वितरित करनेवाले सोशल डिस्टन्सिंग पालन नही कर रहे है. कोतवाली, तहसील, लकडगंज, नंदनवन, सक्करदरा पुलिस के अंतर्गत आनेवाले क्षेत्र मे झंडा चौक, रेशमबाग, गंगाबाई घाट, बुधवार बाजार, चिटणीस पार्क, नई शुक्रवारी रोड, दसरा रोड, छोटा ताजबाग, नंदनवन सिमेंट रोड, एस डी हॉस्पिटल परिसर, गणेश नगर, जुनी शुक्रवारी, रमना मारोती, गुरुदेव नगर, निर्मल नगरी, खरबी रोड, श्रीकृष्ण नगर, केडीके कॉलेज क्षेत्रो मे उडन दस्ते रखकर घुम रहे नागरिकों पर कठोर करने की जरुरत है.

    इन क्षेत्रो के उद्यान और खेल के मैदान का परिसर सील करना चाहिये. पुलिस विभाग, मनपा की ओर से जारी अधिकृत पास, अत्यावश्यक सेवाओं के अलावा जो लोग सडक पर घुम रहे है उनके वाहन जप्त कर उनके उपर अपराध दर्ज किया जाना चाहिये. अत्यावश्यक सेवा और अधिकृत पासधारक को पेट्रोल-डिजल देना चाहिये. जो व्यक्ति अपनी गली, मुहल्ला छोड कर दुसरे क्षेत्र मे जीवनावश्यक वस्तुये लाने जाते है उनको उनके क्षेत्र मे वापस भेजा जाये. परिवार के साथ घुमने निकले, सिनिअर सिटीझन्स पुलिस विभाग ने रोक कर वापस घर भेजना चाहिये या कोई रोड या गली बदल कर आगे चल देता है तो अपराध दर्ज करे या तो उसके हाथ पर स्टॅम्प मार देना चाहिये.

    किसी गरीब, जरुरतमंद को भोजन के पैकेट या अनाज की सामग्री के फोटो सोशल मीडिया या समाचारपत्रो मे प्रसारित करनेवालों पर अपराध दर्ज करना चाहिये. सामग्री वितरित करनेवाले सोशल डिस्टन्सिंग पालन नही करते उनके कारवाई जरुरी है. सामग्री वितरित करने के लिये दो व्यक्ति अतिरिक्त किसी को अनुमती नही देना चाहिये. फूड सामग्री कौनसी जगह बन रही है, साफसुथरी जगह बन रही या नही इसकी जाच होना चाहिये. पुलिस ने अब गलियो मे घुम रहे लोगों को भी रोक लगाना जरुरी है.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145