Published On : Tue, Apr 6th, 2021

कोरोना में निजी हॉस्पिटल की लूट और वेंटिलेटर की कमी के कारण नागरिक त्रस्त

समस्या सुलझाने के लिए युवक कॉंग्रेस ने जिलाधिकारी को सौपा निवेदन

नागपुर– निजी हॉस्पिटल में गरीब मरीज भर्ती हो रहे है, ऐसे में उन्हें वेंटिलेटर और पैसों के अभाव में असुविधाओ का सामना करना पड़ रहा है. इसलिए ऐसी टीम गठित की जाए तो सभी निजी हॉस्पिटल्स में जाकर यह देखे की कोई भी मरीज सुविधाओ से और वेंटिलेटर से वंचित न रहे और मरीजों से हॉस्पिटल ज्यादा पैसों की वसूली न करे. इस मांग का निवेदन नागपुर शहर युवक कांग्रेस के पदाधिकारियों की ओर से जिलाधिकारी को दिया गया है. इस दौरान प्रदेश सचिव संदीप देशपांडे और नागपुर शहर युवक कांग्रेस उपाध्यक्ष कुणाल पूरी प्रमुख रूप से मौजूद थे.

इस दौरान बताया गया है की हरएक निजी हॉस्पिटल्स में मनपा द्वारा ऑडिटर होने के बावजूद भी रोजाना मरीजों से ज्यादा बिल वसूलने के मामले सामने आ रहे है.रेमिडिसिवीर इंजेकशन की कीमत जो सरकार ने रखी है, उससे ज्यादा पैसे मरीजों से वसूले जा रहे है. हरएक निजी हॉस्पिटल्स में 4 से 5 कर्मचारी होने के बावजूद भी बिलों में रोजाना पीपीई कीट का खर्च 20 से 25 कैसा दिखाया जा रहा है. शहर के हरएक हॉस्पिटल में शासन द्वारा दिए गए निर्देश के बाद भी मरीज को 1 से 1.50 लाख रुपये डिपोसिटकरने पड़ रहे है.

यह सभी ध्यान में रखते हुए इसके पीछे बड़ा भ्रष्टाचार मनपा और निजी हॉस्पिटल के द्वारा किया जा रहा है.सदस्यों ने चेतावनी दी है की अगर आपने 48 घंटो के भीतर इसपर उपाययोजना नहीं की तो महाराष्ट्र प्रदेश युवक काँग्रेस की ओर से हरएक हॉस्पिटल में एक एक पदाधिकारी मरीजों की मदद के लिए लगाए जाएंगे.

इस दौरान युवक कांग्रेस के पदाधिकारी जॉन अगिस्तन सचिव पश्चिम नागपुर युवा कांग्रेस, अनिकेत हरडे पूर्व नागपुर युवा कांग्रेस,प्र फुल सोंटक्के, सुशील मोरे, अतुल कोड़े, रक्षांधा बावने,पंकज फुसुंगे,राहुल धापोड़कर,विनोद धामनकर मौजूद थे.