Published On : Wed, Jul 14th, 2021

मोहगांव (झिल्पि) में उमड़ा जनसैलाब

– उड़ रही कोरोना नियमों की धजिया
नदारत रहें पुलिस और स्वास्थ विभाग के अधिकारी

हिंगणा/नागपुर – कोरोना माहामारी की पहली और दूसरी लहर ने देश में ही नही पूरे विश्व में कोहराम मचाया। कई लोगो ने अपनी जान गवाई। दूसरे लॉक डाउन के बाद नियमों के साथ अनलॉक किया गया। लेकिन हकीकत में देखा जाए तो कोरोना नियमों का पालन करते हुए बहोत कम लोग नजर आते हैं। इसका एक नजारा रविवार को हिंगना तहसील के मोहगांव (झिल्पि) तालाब में देखने को मिला।

इस पर्यटन स्थल पर सुबह से शाम तक लोगो का जनसैलाब उमड़ा रहा। मोहगांव (झिल्पि) तालाब पर दोस्त, परिवार के साथ आए लोगो ने कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए नैसर्गिक सुंदरता का आनंद उठाते रहे। ना ही मुंह पर मास था और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा था। कुछ लोगो को छोड़ दिया जाए तो सब लोग मुंह पर मास लगाएं बगैर ही घूम रहे थे। इस ओर हिंगना तहसील के शासकीय अधिकारी, स्वास्थ विभाग, पुलिस विभाग के अधिकारियों का इस ओर ध्यान नहीं है।

हो सकती है जीव हानी
मोहगांव (झिल्पि) तालाब में पिकनिक मनाने आने वाले कई लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। अब तक 100 से अधीक लोगो की तालाब में डूबकर मौत हो चुकी है। कुछ दीन पहले नागपुर शहर के टिपू सुल्तन चौक निवासी एक परिवार यहां पिकनिक मनाने आया था। तालाब में स्नान करने उतरने पर तालाब में डूबने से पिता पुत्र की मौत हो गई। रविवार को भी कुछ लोग तालाब के किनारे में नहा रहे थे। वह गहरे पानी में नही गए। जिससे जीव हानी टल गई। ऐसी ही स्थिति रही तो कोरोना बड़े पैमाने पर फैल सकता है साथ ही जीव हानी भी हो सकती है। रविवार के दिन मोहगांव (झिल्पि) तालाब पर पुलिस बंदोबस्त लगाने की मांग कई बार की गई। लेकिन पुलिस विभाग के अधिकारि इस ओर ध्यान नहीं देते। अपना निजी स्वार्थ के काम को अहमियत देते हैं।


जानकारी देने के बाद भी लेट पहुंची पुलिस
मोहगांव (झिल्पि) तालाब पर पिकनिक मनाने आए लोगो का जनसैलाब उमड़ पड़ने की जानकारी देने के लिए हिंगना पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरिक्षक सरीन दुर्गे को फोन किया गया। फोन नही उठाने पर एसएमएस कर जानकारी दी गई। जानकारी देने के क़रीब एक घंटे बाद पुलिस मोहगांव (झिल्पि) की ओर जाते हुवे नजर आईं। सुबह से शाम तक एक भी पुलिस कर्माचरी भी यहां मौजूद नहीं था।