| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Feb 8th, 2019
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    लोग और राजनैतिक पार्टिया चुनावी मेनिफेस्टो को गंभीरता से नहीं लेती – सुशीलकुमार मोदी

    बिहार के उपमुख्यमंत्री ने शहर में संकल्प रथ को दिखाई हरी झंडी

    नागपूर: चुनावी मेनिफेस्टो को लोग और राजनैतिक पार्टिया गंभीरता से नहीं लेती है. जिसके कारण घोषणा पत्र को संकल्प पत्र नाम दिया गया हैं. इसके माध्यम से 10 करोड़ लोगों से संपर्क करेंगे और उनसे सुझाव मांगेगे और उसी आधार पर संकल्प पत्र तैयार करेंगे. 300 रथ तैयार किए गए है और यह गांव गांव जाकर लोगों को इतने सालों में किए कामों की जानकारी देंगे. 40 दिनों तक यह रथ विभिन्न जगहों पर घूमेगा. यह जानकारी शुक्रवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशीलकुमार मोदी ने पत्र परिषद् में दी. वे नागपुर पहुंचे थे. जहां उन्होंने ‘ भारत के मन की बात ‘ मोदी के साथ के रथ को हरी झंडी दिखाई. इस दौरान उन्होंने बताया की यह रथ गांव में लोगों के सुझाव और वीडियो रिकॉर्डिंग दर्ज करेगा. पेटी में भी लोग अपने विचार डाल सकते है. हर विधानसभा में आकांशा पेटी रखी जाएगी. लोगों को बताया जाएगा की वे अपने सुझाव दे. संकल्प पत्र समिति के अध्यक्ष केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह है. उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले वे यह पत्र जनता को समर्पित करेंगे.

    राफेल मुद्दे पर उन्होंने कांग्रेस पर कहा की इस मामले में सुप्रीम कोर्ट फैसला दे चूका है. लेकिन कांग्रेस न्यायलय के फैसले को भी नहीं मान रही है. उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले मार्च तक आचार सहिंता लग जाएगी. इसलिए राहुल गांधी झूठ बोलेंगे. उनके झूठ पर कोई भी भरोसा नहीं करेगा. वे नेशनल हेराल्ड मामले में बेल पर है. लालू के बेटे भी बेल पर है, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, तेजस्वी यादव् सभी प्रधानमंत्री से डरे हुए है. उन्होंने कहा भाजपा पार्टी पारदर्शिता के साथ काम कर रही है. उन्होंने बताया की बिहार में महिला आरक्षण 50 प्रतिशत है. महिलाओ को बिहार में 35 प्रतिशत आरक्षण सरकारी नौकरियों में है.

    बिहार के लोगो के अन्य राज्यों में जाने पर खासकर महाराष्ट्र के सवाल पर उन्होंने कहा कि सविंधान देश के किसी भी नागरिक को कही पर भी जाने का अधिकार देता है.पंजाब, गुजरात के लोग विदेश में बसे हुए है. अगर बिहार के लोग नहीं आए तो यहां के कारखाने बंद हो जाएंगे. उन्होंने कहा कि यह सब राजनीती है. यहां के मराठी माणूस ने हमेशा बिहारियों का सम्मान किया है और उन्हें गले लगाया है.

    राफेल पर सभी तथ्य रखे जा चुके है. देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ नारे लगवाए जा रहे है. देश के पिछड़े जाति के प्रधानमंत्री ने देश को आगे बढ़ाया है. उन्होंने कहा की पटना में राहुल गांधी और उनके नेता सभा के लिए भीड़ भी नहीं जुटा पाए थे. काले धन को रोकने के लिए प्रधानमंत्री ने ही प्रयास किया था. 7 करोड़ फर्जी, एलपीजी और राशन कार्डो को रद्द किया गया है. इससे 90 हजार करोड़ रुपए की बचत हुई है. उन्होंने कहा कि 15 लाख हरएक खाते में जमा करेंगे ऐसा प्रधानमंत्री ने नहीं कहा था. उन्होंने कहा की बिहार में रोजगार का ग्रोथ रेट बढ़ा है. बिहार में एक भी घर ऐसा नहीं है जहां बिजली नहीं है. बिहार की सड़के काफी बेहतर है. मॉरिशियस के प्रधानमंत्री भी बिहारी है.

    उन्होंने कहा कि मुद्रा लोन के माध्यम से पहली बार सवा चार करोड़ लोगों ने लोन लिया है. 65 लाख लोग न्यू पेंशन से जुड़े है. उन्होंने लालू प्रसाद यादव और उनके बेटे पर भी निशाना साधा है. उनके बेटे के पास अरबो खरबो की प्रॉपर्टी है.

    भाजपा के नेता और फिल्मकलाकर शत्रुघ्न सिन्हा पर उन्होंने कहा कि जब वे राहुल गाँधी और अन्य लोगों की तारीफ़ कर रहे है तो क्या कह सकते है. उन्होंने कहा की वह दौर गया जब सिन्हा के नाम पर भीड़ जुटती थी. इस दौरान पत्र परिषद में विधायक सुधाकर कोहले और भाजपा की शिवानी दानी मौजूद थे.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145