Published On : Wed, Feb 19th, 2020

पारडी में निर्माणाधीन मेट्रो पिलर का लोहे का शेड गिरा

Advertisement

बाल-बाल बचे कर्मचारी

नागपुर. महामेट्रो, एनएचएआई के सौजन्य से शहर में जारी मेट्रो निर्माण कार्य के पारडी चौक पर लोहे के सरियों से कसा पिलर का शेड अचानक सड़क पर आ गिरा. बता दें कि पारडी भंडारा रोड पर इस समय अनेक स्थानों पर मेट्रो का काम शुरू है. इस काम के लिए अनेक स्थानों पर गड्ढे खोदे गए हैं तो अनेक स्थानों पर बैरिकेड्स लगाये गए हैं.

Advertisement
Advertisement

मंगलवार की रात करीब 8 बजे पिलर की लोहे की सेंिट्रंग को कसते वक़्त लोहे का शेड गिर गया. जिस समय हादसा हुआ पिलर के पास कर्मचारी काम कर रहे थे. शेड गिरते ही कर्मचारियों की सांसें फूलने लगी. अच्छा हुआ सड़क पर रात में यातायात कम हो जाता है जिस कारण इस हादसे में गनीमत यह रही कि कोई भी हताहत नहीं हुआ.

बताया गया िक बीते गई दिनों से मेट्रो की कार्यप्रणाली को लेकर तरह तरह के आरोप लगाए जा रहे है किन्तु मेट्रो अधिकारी कार्य में किसी भी प्रकार की चुस्ती नहीं दिखा पा रहे है. पारडी चौक महामार्ग पर चलना अब दुष्कर हो गया है. नागरिक हलाकान है कि यहां वाहन चलाना काफी मुश्किल है. लोगों ने कहा कि मेट्रो निर्माण के कारण हादसे हो रहे हैं, जिसे लेकर गंभीरता नहीं बरती जा रही. रास्तों पर धूल, मिट्टी, गड्ढे इतने बड़े हो गये है कि वाहन गुजरने में तकलीफ होती है. किन्तु अाला अधिकारी और नगरसेवक आंखें मूंदकर बैठे है. हालात यह है कि ट्राफिक जाम से निराशा होती है और बहुत समय बर्बाद होता है जिससे अनावश्यक देरी गंतव्य तक पहुंचने में होती है.

स्थानीय लोगों में आक्रोश
बता दें कि स्थानीय लोग इस बात को लेकर काफी आक्रोशित हैं. इस समस्या को लेकर स्थानीय तौर पर प्रॉजेक्ट बीते तीन वर्ष से लंबित है और मुख्य सड़क का काम भी अधूरा पड़ा है. एक वर्ष पहले ही बड़े आंदोलन किए गए थे. इस समस्या के कारण आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. पता नहीं स्थानीय समस्या से जूझ रहे पारडी के नागरिकों को धूल, मिट्टी, गड्ढे, चरमराई ट्राफिक व्यवस्था से निजात कब मिलेगी.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement