Published On : Tue, Jul 10th, 2018

राज ठाकरे की राह पर अजीत पवार, कहा “अपनी हिंदी अपने पास रखो”

नागपुर: लगता है पूर्व उपमुख्यमंत्री अजीत पवार राज ठाकरे की राह पर चल पड़े हैं. दरअसल अजीत पवार अपनी बात विधान भवन के मीडिया मंच पर मराठी में रख रहे थे. पत्रकारों ने जब उन्हें हिंदी में बोलने की अपील की तो इस पर उन्होंने पलटवार करते हुए कहा कि “अपनी हिंदी अपने पास रखो”. बता दें इससे पहले भी वह कई बार हिंदी के प्रति वे अपना द्वेष जाहिर कर चुके हैं.

पवार राज्य के बड़े नेताओं में गिने जाते हैं. साथ ही पूर्व उपमुख्यमंत्री भी है. उनकी राजनीतिक पार्टी देशभर में कांग्रेस के साथ सत्ता में भागीदार रही है.

उसके बावजूद उनका इस तरह भाषावाद करने के पीछे क्या सोच और क्या मकसद हो सकता है यह तो वही जानें. लेकिन उनके अंदाज को मराठी मानुस की अस्मिता का सवाल उठानेवाले राज ठाकरे से जोड़कर देखा जा रहा है.

विधान भवन के मीडिया मंच पर आने के बाद उन्होंने खुद बयान दिया, लेकिन बयान को हिन्दी में रखने की पत्रकारों की बिनती पर उन्होंने हिन्दी अपने पास रखें को टका सा जवाब दे डाला. पवार के इस बर्ताव का असर आनेवाले चुनाव पर पड़ने की भी संभावना होने की चर्चा जोरों पर रही.

BY NARENDRA PURI