Published On : Thu, Aug 29th, 2019

एक ओर भर्ती प्रशासन ने की रद्द, होमगार्ड की भर्ती रद्द होने से उमेदवारो का बवाल

नागपुर: देश में एसएससी, भारतीय डाक और अन्य परीक्षाओ की भर्ती प्रक्रिया रद्द करने के मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे है. सरकार की ओर से इस तरह से जितनी भी परीक्षाएं रद्द की गई है. उसका कारण ज्यादतर कारण यही दिया गया है की परीक्षा में या फिर भर्ती प्रक्रिया में अनियमितताएं पायी गई है. कई उमेदवारो के मामले कोर्ट में भी चल रहे है और वह भी नौकरी पाने के लिए कानूनी रूप से लड़ रहे है. अभी हाल ही में एक ओर भर्ती कैंसिल होने से उमेदवारो में नाराजी है. इसी वर्ष नागपुर में हुई होमगार्ड की भर्ती अचानक रद्द किए जाने से युवा उम्मीदवारों में रोष है.

बुधवार को उन्हें इसका पता चला और कांग्रेसनगर स्थित होमगार्ड कार्यालय में जमकर बवाल हुआ. पात्र उम्मीदवारों ने कार्यालय के सामने प्रदर्शन भी किया. बताया जाता है कि 13 मार्च 2019 को नागपुर में होमगार्ड की भर्ती प्रक्रिया शुरू हुई थी. इसमें 1238 उम्मीदवार पात्र हुए. उन्हें इसी वर्ष गणेशोत्सव के पहले ड्यूटी पर लेने का आश्वासन भी मिला था. अचानक मुंबई स्थित मुख्यालय से फरमान जारी हुआ कि मार्च में हुई भर्ती प्रक्रिया को रद्द कर दिया गया है.

उम्मीदवारों को बताया गया कि भर्ती के दौरान अनियमितता होने के कारण इसे रद्द किया गया है. इसके चलते बड़ी संख्या में उम्मीदवार होमगार्ड कार्यालय में पहुंचे. बुधवार को ही समादेशक मोनिका राऊत ने यहां पदभार संभाला था.

उम्मीदवारों ने उनसे चर्चा की तो पता चला मुंबई से केवल इतनी जानकारी मिली है कि अनियमितता होने के कारण भर्ती रद्द की गई. कई पात्र उम्मीदवार ऐसे हैं जो आयु सीमा के बंधन के कारण दोबारा भर्ती में हिस्सा नहीं ले पाएंगे. ऐसे में उम्मीदवारों में खासी नाराजगी थी. इसकी जानकारी मिलने पर पार्षद बंटी शेलके होमगार्ड कार्यालय पहुंचे. जिलाधिकारी कार्यालय को ज्ञापन सौंपा गया.