Published On : Fri, Dec 5th, 2014

गड़चिरोली : अब शीघ्र बनेगा वड़सा-गड़चिरोली रेलवे मार्ग

Advertisement


सांसद अशोक नेते की पहल पर रेल मंत्रालय का आश्वासन

Ashok Nete
गड़चिरोली।
गड़चिरोली-चिमूर लोकसभा क्षेत्र की रेलवे संबंधी सवालों के संदर्भ में सांसद अशोक नेते ने केन्द्रीय रेलमंत्री सुरेश प्रभु से मुलाकात कर सविस्तार चर्चा की. चर्चा के दौरान मंत्री महोदय ने गड़चिरोली जैसे अतिदुर्गम व नक्सलग्रस्त लोकसभा क्षेत्र में रेलवे के विस्तारीकरण के संदर्भ में प्राथमिकता और प्रधानता देने का आश्वासन दिया. इसी क्रम में 5 वर्षों से लंबित 52.36 किमी वड़सा-गड़चिरोली रेल लाइन के लिए तत्काल निधि का प्रावधान किए जाने की बात कही. यह जानकारी प्रचार प्रमुख राजेन्द्र भुरसे द्वारा प्रेस विज्ञप्ति में दी गई है.

विज्ञप्ति के अनुसार, सांसद अशोक नेता ने 19 जून 2014 को नागभिड़ में बैठक कर लोकसभा क्षेत्र में रेल मार्ग व प्लैटफार्म के संदर्भ में दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे नागपुर व बिलासपुर जोन के अधिकारियों को रेलवे मंत्रालय से माँगों के संदर्भ में पहल करने की सूचना दी थी. उसके बाद 3 दिसम्बर 2-14 को सांसद नेते ने केन्द्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु से मुलाकात कर लोकसभा क्षेत्र के रेलवे के प्रलंबित मामलों के संदर्भ में गंभीर मंत्रणा की.

Advertisement
Advertisement

इस दौरान मंत्री महोदय ने वड़सा-गड़चिरोली रेलवे लाइन के लिए निधि दिए जाने संंबंधी संकेत दिए. इसी के अंतर्गत वड़सा रेलवे स्थानक पर दरभंगा एक्सप्रेस के ठहराव, बिलासपुर-चेन्नई एक्सप्रेस को नियमित ठहराव को भी मंजूरी दी गई साथ ही गोंदिया जिले के आमगाँव में भी बिलासपुर-चेन्नई एक्सप्रेस रोके जाने की बात उन्होंने कही. गड़चिरोली-चिमूल लोकसभा क्षेत्र अंतर्गत वड़सा-ब्रह्मपुरी, सिंदेवाही, नागभीड़, गोंदिया जिले के आमगांव में रेलवे स्थानक हैं. केवल अनेक सुपरफास्ट / एक्सप्रेस गाडिय़ां नहीं रुकती हैं. इससे यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करता पड़ता है. इसलिए उन्होंने यह माँग रखी. अब इन स्थानों में उक्त गाडिय़ां रोकी जाएँगी.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement