Published On : Fri, Jul 5th, 2019

घुमंतू समाज क़े बजट में हो 10 हजार करोड़ का प्रावधान -डॉ विकास महात्मे

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से की मिलकर रखी मांग

नागपुर: राज्यसभा सांसद पद्मश्री डॉ विकास महात्मे ने केंद्र सरकार से विमुक्त ,घुमंतू और अर्द्ध घुमंतू समाज समुदाय के कल्याण के लिए बजट में 10 हजार करोड़ का प्रावधान करने की मांग की हैं। उन्होंने यह मांग केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से हाल ही में दिल्ली में\ मिलकर की हैं। इस मौके पर विमुक्त ,घुमंतू आयोग व विकास कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष दादा इधाते प्रमुखता से उपस्थित थे। डॉ महात्मे इस मांग को लेकर केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत से भी मिले।उन्होंने फरवरी 2019 में इस समुदाय के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता के अधीन विकास कल्याण बोर्ड का गठन करने के लिए गेहलोत का आभार जताया और कहा की घुमंतू समाज को समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए और उन्हें स्थिरता प्रदान करने की सख्त जरूरत हैं। उन्होंने कहा कि घुमंतू समाज का जब कल्याण नहीं होंगा तब वे घुमंतू बने रहेंगे। इस समुदाय को पहले स्थिरता प्रदान करनी होंगी और उनकी सोच बदलनी होंगी। महात्मे ने कहा कि घुमंतू होने के बजाए यदि वे एक जगह टिककर रहेंगे तो उनके बच्चो को शिक्षा व स्वास्थ्य जैसी सुविधाएं मिल सकेंगी। डॉ महात्मे ने कहा कि इन जनजातियों को समाज की मुख्यधारा में लाने और उन्हें एक जगह ही रोजगार ,शिक्षा तथा स्वास्थ्य सेवा प्रदान कराने हेतु आने वाले बजट में 10 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया जाना चाहिए।