Published On : Tue, Jan 15th, 2019

मनपा में बनेगा आर्किटेक्टों का पैनल – कुकरेजा

स्थाई समिति में हुए जनहित में महत्वपूर्ण निर्णय

Vicky Kukreja

नागपुर: नागपुर सुधार प्रन्यास में पूर्व सभापति अश्विन मुद्गल के कार्यकाल में न्यायसंगत विकासक और विकास कार्यों के लिए विगत माह आर्किटेक्टों का पैनल बनाया गया. उसी तर्ज पर मनपा में भी पैनल का गठन किया जाएगा. यह जानकारी स्थाई समिति के सभापति विक्की कुकरेजा ने दी.

उन्होंने आज स्थाई समिति की महत्वपूर्ण बैठक के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि प्रन्यास की तरह मनपा में जल्द आर्किटेक्टों के पैनल के गठन के निर्देश प्रशासन को दिए गए हैं ताकि कार्य के अनुभव के आधार पर विकासक तय किया जा सके. इससे किए जा रहे कार्यों की गुणवत्ता में सुधार होगा. प्रन्यास में ऐसे पैनल के मातहत अच्छी खासी सफलता मिली है. किराए पर विभिन्न कार लेने के प्रस्ताव को मिली मंजूरी.


पिछले समिति की बैठक में इस विषय को रोक लगाने के बाद इस बैठक में अधिकारी – पदाधिकारी , वार्ड अधिकारियों की आवाजाही के लिए वर्ष 2018 से 2020 तक के लिए किराए पर 52 कार विभिन्न दरों पर लेने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई. जिसमें से एक कर का मासिक किराया 21000 तो शेष का उससे ज्यादा दर्शाया गया.

सरकारी दर से अधिक में पुलिया निर्माण के ठेके को मिली मंजूरी –
नारी घाट के नजदीक पीली नदी पर नया पुलिया निर्माण का ठेका 6 दफे निकाला गया. प्रत्येक बार 1 से अधिक ठेकेदार ने भाग नहीं लिया. अतः 6 ठी बार जैसे तैसे 1 ठेकेदार ने टेंडर भरा,वह भी सरकारी दर से 18% अधिक अर्थात 60 लाख रुपए अधिक. क्यूंकि काम महत्वपूर्ण था और राजकीय दबाव भी था,इसलिए इसे मंजूरी प्रदान की गई.

जप्त सामानों की नीलामी आखिरी बार –
मनपा चुंगी और एल बी टी विभाग ने पिछले डेढ़ दशक में समान जप्त किए थे. पिछली कई बार नीलामी से बचे सामग्री जिसका उपयोगिता का स्तर अंतिम मुहाने पर है, उसे प्रस्तावित दर से 30% कम में निलाम करने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई. इससे मनपा को 24.62 लाख रुपए आय होगी. इसके बावजूद नहीं नीलम होने पर आयुक्त को अधिकार दिया जाएगा कि उसका मनपा के दिनचर्या में उपयोग कर सके.

बाजीराव साखरे इ – लाइब्रेरी शुरू करने के खर्च को मंजूरी –
लस्करीबाग में पूर्व मंत्री ने राज्य सरकार की निधि से बाजीराव साखरे ई – लाइब्रेरी का निर्माण कार्य शुरू किया था. इसके लिए राज्य सरकार पूर्ण निधि देने वाली थी. लाइब्रेरी की इमारत नागपुर सुधार प्रन्यास के जमीन पर की गई. सभापति कुकरेजा ने जानकारी दी कि यह लाइब्रेरी मनपा को हस्तांतरित नहीं हुई है. प्रन्यास को प्रस्ताव के अनुसार 20 लाख रुपए खर्च कर पठन सामग्री उपलब्ध करवाना था. अब प्रन्यास 10 लाख रुपए खर्च करने को तैयार हुआ है. इस लाइब्रेरी को शुरू करने के लिए 13.40 लाख रुपए के खर्च को मंजूरी प्रदान की गई. जल्द ही मनपा आयुक्त,महापौर,स्थाई समिति सभापति,स्थानीय विधायक का संयुक्त दौरा कर अन्य जरूरतों की पूर्ति करने हेतु निर्णय लिया जाएगा.