| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Jan 15th, 2019

    क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़ा चर्चित चेन स्नैचर

    नागपुर: अंबाझरी थाना क्षेत्र में रविवार की शाम चेन स्नैचिंग की वारदात हुई. अंबाझरी पुलिस सहित क्राइम ब्रांच के सभी दल जांच में जुट गए. सोमवार को क्राइम ब्रांच के यूनिट-3 ने इस मामले में चर्चित चेन स्नैचर भारत गुरदासमल वासवानी (34) को गिरफ्तार कर लिया. भारत मूलत: अमरावती के फ्रेजरपुरा का रहने वाला है. उसके खिलाफ राज्य के कई शहरों में चेन स्नैचिंग की मामले दर्ज हैं. शिवाजीनगर निवासी रघुनंदिनी सुंदरम रंजन (62) रविवार की शाम 5.15 बजे के दौरान इवनिंग वॉक के लिए घर से निकली थी. परिसर में ही बाइक पर सवार आरोपी ने उनके गले से लॉकेट सहित 68 ग्राम सोने की चेन झपट ली और भाग निकला.

    खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने आसपास के इलाकों में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली. एक स्थान पर पुलिस को उसका हुलिया और चेहरा दिखाई दिया. फुटेज से पता चला कि आरोपी भारतनगर से वाड़ी की तरफ गया है. पुलिस ने वाड़ी परिसर में दूकानदारों से पूछताछ की. एक व्यक्ति ने बताया कि इस हुलिये का व्यक्ति टेकड़ीवाड़ी परिसर में रहता है. बाइक पर पुलिस ने पूरे टेकड़ीवाड़ी परिसर में तलाशी अभियान चलाया. एक घर के आगे पुलिस को एम.एच.27-ए.पी.4501 नंबर की बाइक खड़ी दिखाई दी.

    उसी घर में पुलिस ने भारत को दबोच लिया. डीसीपी संभाजी कदम और एसीपी संजीव कांबले के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर जग्वेंद्रसिंह राजपूत, एपीआई ज्ञानेश्वर भेदोड़कर, पीएसआई मंगला मोकाशे, एएसआई राजेंद्र बघेल, हेडकांस्टेबल शैलेष ठवरे, सुरेश हिंगणेकर, अनिल दुबे, अतुल दवंडे, श्याम कड़ू और शरीफ शेख ने कार्रवाई को अंजाम दिया.

    डेढ़ महीने चले उपचार के बाद फिर हुआ सक्रिय
    भारत के खिलाफ वर्धा, अमरावती, अकोला, जलगांव और नागपुर में चेन स्नैचिंग के 23 मामले दर्ज हैं. इसके पहले भी पुलिस उसे गिरफ्तार कर चुकी है. डेढ़ महीने पहले वह दुपहिया वाहन पर अमरावती से वर्धा शराब तस्करी कर रहा था. इसी दौरान वह दुर्घटना का शिकार हुआ और बुरी तरह जख्मी हुआ. डेढ़ महीने तक उसका उपचार चला. कुछ दिन पहले ही वह स्वस्थ हुआ और दोबारा चेन स्नैचिंग में सक्रिय हो गया.

    उसने टेकड़ीवाड़ी में एक मकान किराए पर लिया था. शहर में 5-6 हाथ मारने के बाद वह वापस अमरावती भागने वाला था, लेकिन उसके पहले ही पुलिस के हाथ लग गया. वह अलग-अलग शहरों में जाकर मकान किराए पर लेता है. 4-5 वारदातों को अंजाम देकर कुछ समय के लिए अमरावती भाग जाता है. इसके बाद दूसरा शहर चुनता है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145