| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Oct 10th, 2018

    मनपा की आर्थिक स्थिति ठीक,बस संभालने की जरुरत

    NMC-Nagpur

    नागपुर: एक ओर आज स्थाई समिति की बैठक चल रही थी तो दूसरी ओर मनपा ठेकेदार संगठन के तथाकथित नेतृत्वकर्ता मनपा प्रशासन के खिलाफ बकाया भुगतान को लेकर जोरदार नारेबाजी करते दर-दर भटक रहे थे.इस ज्वलंत मसले पर जब स्थाई समिति सभापति वीरेंद्र उर्फ़ विक्की कुकरेजा से उनकी राय पूछी गई तो उन्होंने कहा कि मनपा की आर्थिक स्थिति ठीक-ठाक हैं,पिछले वर्षों कुछ डगमगा गई थी.जल्द और भी अच्छी हो जाएंगी।

    कुकरेजा के अनुसार पिछले कुछ वर्षों में विशिष्ठ मदों की राशि से छेड़छाड़ कर खर्च कर दी गई थी,लेकिन ५ मार्च २०१८ से सभापति की जिम्मेदारी संभालने के बाद आर्थिक मामलों खास कर खर्च करने के मामलों में काफी सुधार किया गया.सीमेंट सड़क के फेज-३ की राशि अभी तक आरक्षित हैं.अर्थात प्रत्येक मद से खर्च हेतु विशेष ध्यान रखा गया.इसके अलावा रोजाना मनपा प्रशासन १० लाख रूपए ‘सेविंग’ भी कर रही हैं.

    कुकरेजा के अनुसार उन्होंने दो दिन पूर्व मुख्यमंत्री से मुलाकात कर ३२५ करोड़ का ‘स्पेशल ग्रांट’ और आगामी माह से जीएसटी की राशि बढ़ाकर ९० करोड़ प्रति माह देने की मांग की.मुख्यमंत्री ने उक्त दोनों मांगों को स्वीकार कर जल्द सकारात्मक निर्णय लेने का वादा किया।इसी मामले को लेकर कुछ दिन पूर्व मनपा के सत्तापक्ष नेता,स्थाई समिति सभापति,उपमहापौर आदि नागपुर के सांसद व केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की,उक्त विषय पर चार्चा उपरांत गडकरी ने मुख्यमंत्री से सभी की उपस्थिति में चर्चा कर मनपा शिष्टमंडल की मांग दोहराई,जिसे अगले माह पूरी करने हेतु सम्पूर्ण प्रशासकीय पूर्ण करने के बाद मांग अनुसार राशि उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया।

    ठेकेदार को त्यौहार पूर्व कुछ बकाया मिलेंगा
    मनपा के ठेकेदारों को मार्च २०१८ से बकाया भुगतान नहीं किया गया हैं,इनमें से कुछ को तो उससे भी पहले का बकाया हैं.लगभग ८ माह से भुगतान नहीं होने के कारण ठेकेदार सड़क पर गए और दर-दर भटकते हुए बकाया दिलवाने की गुजारिश करते दिखे।यहाँ तक कि मानसून अधिवेशन में कांग्रेस विधायक से सवाल भी उठवाये। आज एक ओर स्थाई समिति की बैठक चल रही थी तो दूसरे ओर ठेकेदार संगठित होकर नारेबाजी कर रहे थे.इसी बीच स्थाई समिति सभापति विक्की कुकरेजा ने प्रभारी आयुक्त को निर्देश दिया कि त्योहारों के मद्देनज़र ठेकेदारों का बकाया राशि में से मार्च २०१८ और अप्रैल २०१८ का बकाया चुकाने की तैयारी करें।साथ ही इससे पहले के भी जिन ठेकेदारों का बकाया हैं,उसकी भी सूची तैयार करें।संभवतः त्यौहार पूर्व मनपा प्रशासन ठेकदारों में ५० करोड़ रूपए पहले चरण में वितरित करेंगी।

    उल्लेखनीय यह हैं कि आज के स्थाई समिति की बैठक में बाजार विभाग अंतर्गत आने वाली दुकानें,ओटे,खुली जगह का मासिक किराया,जिसे नए सिरे से रेडीरेकनर के तहत अंकेक्षण कर बढ़ाया गया था,जिसे दटके समिति की सिफारिश पर बढ़ाये गए शुल्क का आधा कर दिया गया.इसके अलावा आज ५८५००००० रूपए के कार्यों को प्रशासकीय मंजूरी और साढ़े सात करोड़ के कार्यों के लिए निविदा जारी करने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गई.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145