फिर खुला मनपा में कमीशनखोरी का खेल

NMC Nagpurनागपुर – महानगर पालिका के दफ्तर में पूर्व नगरसेविका के पति ने इलाके में काम करने के एवज में कमीशन न देने पर बिजली ठकेदार के साथ गालीगलौच और मारपीट की। लेखा और वित्त विभाग हुए इस घटनाक्रम से मनपा में हड़कंप मच गया। कमीशन न देने की एवज में पूर्व नगरसेविका अशर्फुन्निशा के पति इफ्तेखार अहमद ने बिजली ठेकेदार अशोक पाटिल के साथ मारपीट की। मनपा कार्यालय अंदर हुए इस घटनक्रम से लेखा और वित्त विभाग सन्न रह गया। कार्यालय में मौजूद महिलाकर्मियों ने दोनों को कार्यालय से बाहर किया। बाहर निकलते ही इफ़्तेख़ार अहमद ने अशोक पाटिल को थप्पड़ जड़ दिया। घटना के बाद खुद के साथ हुई मारपीट की शिकायत पाटिल ने सदर पुलिस थाने में की पीड़ित की शिकायत के बाद पुलिस ने पूर्व नगरसेविका के पति के ख़िलाफ़ धारा 294,223 और 506 के तहत मामला दर्ज किया है।

पीड़ित अशोक पाटिल के मुताबिक उसने लगभग एक साल पहले मोमिनपुरा इलाके में डेढ़ लाख रूपए का स्ट्रीट लाइट लगाने का काम किया था। इसी काम के एवज में इफ़्तेख़ार उससे काम के मूल्य पर 10 प्रतिशत कमीशन की माँग कर रहा था। उसने कमीशन देने से इनकार किया आज वह किसी काम से मनपा दफ़्तर आया था इसी दौरान इफ्तख़ार भी वहाँ पहुँचा। जहाँ उसने फिर कमीशन की माँग की जिसे देने से इनकार किये जाने पर उसके साथ गालीगलौच और मारपीट की गई।

इस घटना के बाद मनपा में काम के एवज में कमीशन खोरी के काले कारनामें का खेल फिर उजागर हुआ। है ख़ास है की जनता के पैसे से जनता के लिए होने वाले काम कमीशन खोरी के चक्कर में निकृष्ट दर्जे के हो जाते है जिसका खामियाजा जनता को ही भुगतना पड़ता है। नागपुर मनपा में करीब 11 सौ कॉन्ट्रेक्टर रजिस्टर है नागपुर म्युन्सिपल कॉर्पोरेशन कॉन्ट्रेक्टर वेलफेयर असोशिएशन ने मनपा कार्यालय में हुई इस घटना पर निषेध व्यक्त किया है। संस्था के अध्यक्ष विजय नायडू ने मारपीट करने वाले के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की माँग की है। नायडू के मुताबिक जनता के लिए होने वाला काम इसी तरह की कमीशनखोरी की वजह से ख़राब होता है। जरुरत है की इस व्यवस्था को बदला जाए जिससे की जनता को बेहतर सेवाएं मिल पाए।