Published On : Wed, Dec 14th, 2016

नोटबंदी में मरनेवालों को चोर कहना उनका अपमान है : नितेश राणे

nitesh-rane

नागपुर: केंद्रीय मंत्री कृष्णा राज द्वारा मीडिया के सामने नोटबंदी के बाद बैंकों में लाइन में लगे लोगों में से कईयों की जान जाने की घटना से इंकार करते हुए नोटबंदी के कारण किसी की जान नहीं गई ऐसा कह डाला। नोटबंदी के कारण केवल वे लोग मर रहे हैं जो बीते 70 साल से केवल खा और लूट रहे थे। केंद्रीय मंत्री के इस तरह के बयान का कांग्रेस विधायक नितेश राणे ने कड़े शब्दों में विरोध किया। उन्होंने विधान भवन परिसर में बुधवार को मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि नोटबंदी के कारण लोगों के आर्थिक व्यवहार ठप्प पड़े हुए हैं।

बैंकों की लाइन में लगे लोगों में से कई मौत को गले लगा चुके हैं ऐसे में केंद्रीय मंत्री द्वारा नोटबंदी से किसी की जान नहीं जाने की बात कही जा रही है। केवल यही नहीं मरनेवालों को अपशब्द कहे। यह सही मायनों में मरनेवालों का अपमान है। एक ओर केंद्र सरकार नोटबंदी कर सामान्य लोगों को कष्ट दे रही है और उसी सरकार के मंत्री बैंक के सामने लाइन में लगे लोगों के मरनेवालों का अपमान कर रहे हैं। सरकार को यह ध्यान रखना चाहिए कि नोटबंदी से होनेवाली तकलीफ उनके द्वारा लिए गए निर्णय के कारण ही जनता को हो रही है।