Published On : Fri, Jan 19th, 2018

एमबीए की ओपेनमेंट प्रवेश परीक्षा में नागपुर सेंट्रल जेल के 9 कैदियों ने पायी सफलता


नागपुर: नागपुर सेंट्रल जेल में जीवन गुजार रहे कई कैदियों के जीवन में शिक्षा के जरिये प्रकाश फ़ैल रहा है। जेल के सैकड़ो कैदी इंदिरा गाँधी मुक्त विद्यापीठ के माध्यम से शिक्षा ग्रहण कर चुके है। हालही में एमबीए पाठ्यक्रम में एडमिशन के लिए ली जाने वाली ओपेनमेंट प्रवेश परीक्षा में 9 कैदियों ने सफलता पायी है। जेल से 11 कैदियों ने इस परीक्षा में हिस्सा लिया था,जिनमे से 9 सफल हुए है।

उच्च शिक्षा के लिहाज से अहम मानी जाने वाली एमबीए की डिग्री हासिल करने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है। लेकिन अपने गुनाहो की सजा भुगत रहे इन कैदियों ने अपनी मेहनत और प्रबल ईरादे की वजह से एमबीए की डिग्री लेने के लिए पहला अहम पड़ाव पार किया है। 9 कैदियों में से एक ने जेल में आने से पहले महज 8 वी क्लास तक की पढाई की थी। इस कैदी ने जेल से ही अपना ग्रेजुएशन,पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की।


इग्नू के रिजनल डायरेक्टर पी.शिवस्वरूप की माने तो ओपेनमेंट प्रवेश परीक्षा को पास करना आसान नहीं होता। इसके लिए कड़ी मेहनत और अभ्यास करना पड़ता है। जेल में बंद कैदियों से अन्य छात्रों के लिए उदहारण प्रस्तुत किया है। उन्होंने ने बताया की इग्नू के सहयोग से नागपुर जेल के करीब 12 सौ कैदीयो ने विभिन्न पाठ्यक्रमों की पढाई की है। किसी सामन्य विद्यार्थी की तरह जेल के कैदियों को भी उचित मार्गदर्शन इग्नू द्वारा दिया जाता है। शिक्षकों की टीम ने ओपेनमेंट प्रवेश परीक्षा के लिए भी प्रतिभागियों को पढ़ाया,इग्नू के शिक्षा पर आधारित रेडिओ चैनल को जेल में प्रसारित किये जाने की जानकारी भी शिवस्वरूप ने दी।