| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Jun 2nd, 2021

    NCWA- XI : आज चारों यूनियन के 5-5 प्रतिनिधि चार्टर आफ डिमांड करेंगे तैयार


    नागपुर/कोलकाता – नेशनल कोल वेज एग्रीमेंट(NCWA) – XI के लिए जेबीसीसीआई- XI के गठन की कवायद शुरू हो चुकी है। इसमें जेबीसीसीआई- X की तरह ही यूनियन का प्रतिनिधित्व होगा। इधर, चारों यूनियन नेशनल कोल वेज एग्रीमेंट के लिए एक मंच पर आ चुके हैं। संयुक्त रूप से चार्टर आफ डिमांड तैयार करने आज 2 जून को एचएमएस, बीएमएस, सीटू, एटक के पदाधिकारी बैठक करेंगे। वर्चुअल माध्यम से यह बैठक 11 बजे से होगी। चारों यूनियन से पांच- पांच प्रतिनिधि इस मीटिंग में शामिल होंगे। इंटक को इस मीटिंग के लिए आंमत्रित नहीं किया गया है।

    याद रहे कि 30 मई को कोल इंडिया प्रबंधन के साथ यूनियन की हुई मीटिंग में 15 जून तक जेबीसीसीआई का गठन कर पहली बैठक कर लिए जाने का निर्णय लिया गया है। चारों में यूनियन द्वारा जेबीसीसीआई में प्रतिनिधित्व के लिए नामों का भी चयन किया जा रहा है। चार्टर आफ डिमांड के लिए कई संगठनों और कामगारों ने भी अपने सुझाव यूनियन को भेजे हैं।

    CIITIEA ने वेतन समझौता-11 के लिए दिए सुझाव

    नेशनल कोल वेज एग्रीमेंट- 11 के लिए विभिन्न संगठनों द्वारा सुझाव दिए जा रहे हैं। इसी कड़ी में कोल इंडिया आईटीआई एम्प्लाइज एसोसिएशन (सीटिया) ने भी सीआईएल चेयरमैंन को सुझाव पत्र प्रोषित किया है। जो इस प्रकार है:

    वेतन समझौते में कम से कम 40% वेतन बढ़ोतरी में लाभ सुनिश्चित किया जाए, वार्षिक वेतन वृद्धि 3% से बढ़ाकर 5% किया जाए, सभी कर्मचारियों को दैनिक वेतन भोगी से अलग कर मासिक वेतन भोगी किया जाए, मोटरसाइकिल अलाउंस की जगह कार अलाउंस दिया जाए,अतिरिक्त परिवहन भत्ता को समाप्त कर “रात्रि पाली भत्ता” बना कर ₹350 प्रति रात्रि दिया जाय।

    अंडरग्राउंड अलाउंस संशोधित बेसिक का 15% की दर से उत्तरोत्तर वृद्धि के साथ दिया जाय,समयबद्ध पदोन्नति दिया जाय अथवा कैडर पूर्ण होने पर उच्च पद का इंक्रीमेंट तत्काल दिया जाय, SLP की अधिकतम सीमा 05 वर्ष किया जाए, HEMM ऑपरेटर की पदोन्नति सुपरवाइजरी ग्रेड तक की जाए, विशेष भत्ता 04% से बढ़ाकर 10% उत्तरोत्तर वृद्धि के साथ किया जाय,आवास भत्ता (HRA) संशोधित बेसिक का 05% दिया जाय,माइनिंग की तरह टेक्नीशियन को भी हैण्ड ओवर (चार्ज अलाउंस) दिया जायकोल इंडिया में कार्यरत कर्मचारियों को स्मार्ट कार्ड जारी किया जाए, देश के प्रत्येक जिले में कोल इंडिया से हॉस्पिटलों को संबद्ध किया जाए।

    सभी कोल इंडिया के केंद्रीय चिकित्सालय में होम्योपैथी एवं आयुर्वेदिक की बेहतर सुविधा उपलब्ध कराई जाए, कोल इंडिया के सभी सेंट्रल हॉस्पिटल से उच्च श्रेणी हॉस्पिटल में जाने के लिये इमर्जेन्सी हेतु एयर एंबुलेंस की व्यवस्था किया जाय। CPRMS-NE के द्वारा ₹40000 कटौती का प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया जाए,वर्तमान में पेंशन मद में 7% कटौती को बंद किया जाए इसे 3% या ऑप्शनल किया जाए,सीएमपीएफ से राशि निकालने की प्रक्रिया सरल की जाए,भारत भ्रमण ₹12,000 से बढ़ाकर 20,000 रुपए किया जाय एवं गृह नगर भ्रमण ₹8,000 से बढ़ाकर 15,000 रुपए किया जाए।

    कोल कर्मचारियों को 15 दिन का पितृत्व अवकाश प्रदान किया जाए, सवैतनिक अवकाशों की संख्या 8 से बढ़ाकर 13 की जाए जिसमें गुरु नानक जयंती,ईद, क्रिसमस डे, विश्वकर्मा जयंती,एवं अंबेडकर जयंती को भी शामिल किया जाए, कार्य के दौरान महामारी से संक्रमित कर्मचारियों को स्पेशल लीव संगरोध अवकाश प्रदान कर उनका वेतन भुगतान कराया जाए।

    संघ के केंद्रीय महामंत्री बीके पटेल द्वारा बताया गया कि कई दशकों से कर्मचारियों से संबंधित अति आवश्यक समस्याओं को पत्र के माध्यम से जेबीसीसीआई के सदस्यों (बीएमएस, एटक, एचएमएस, सीटू,)एवं वेतन समझौते से संबंधित समस्त कोल इंडिया के अधिकारियों को मेल के द्वारा प्रेषित किया गया एवं संघ द्वारा अनुरोध किया गया कि उपरोक्त विषयों को राष्ट्रीय कोयला वेतन समझौता के लिये गठित की गई द्विपक्षीय समिति (JBCCI-XI) में समाधान निकालने की दिशा मॆं सकारात्मक पहल की जाए।

    15 जून तक जेबीसीसीआई- XI का गठन और पहली बैठक करने पर बनी सहमति

    गत सप्ताह कोल इंडिया प्रबंधन और यूनियन के बीच हुई वर्चुअल बैठक में नेशनल कोल वेज एग्रीमेंट- XI के लिए जेबीसीसीआई- XI के गठन पर सहमति बन गई है। 15 जून तक जेबीसीसीआई- XI न केवल अस्तित्व में जाएगी बल्कि इसकी पहली बैठक भी कर ली जाएगी।

    बैठक में यह तय हुआ कि जेबीसीसीआई- X की तरह यूनियन का प्रतिनिधित्व रहेगा। कोल इंडिया प्रबंधन ने चारों यूनियन से सदस्यों के नाम शीघ्र प्रेषित करने कहा है।

    इधर, एचएमएस के अध्यक्ष नाथूलाल पांडेय ने इंड से चर्चा करते हुए बताया कि यूनियन में आपसी कोई मतभेद नहीं है। एचएमएस, बीएमएस, एटक, सीटू द्वारा संयुक्त रूप से चार्टर आफ डिमांड सौंपा जाएगा। इंटक को लेकर श्री पांडेय ने कहा कि जेबीसीसीआई में इंटक के लिए भी चार स्लाॅट है।

    आज की बैठक में सीआईएल के निदेशक मार्केटिंग/कार्मिक एनएन तिवारी, जीएम एसके चौधरी सहित एचएमएस से नाथूलाल पांडेय, एसके पांडेय, बीएमएस से सुधीर घुरडे, सुरेन्द्र पांडेय, एटक से रामेंद्र कुमार एवं सीटू से डीडी रामानंदन सम्मिलित हुए।

    33 निजी कोल कंपनियों को JBCCI में शामिल होने भेजा गया पत्र

    नेशनल कोल वेज एग्रीमेंट-XI के लिए जेबीसीसीआई- XI के गठन की कवायद शुरू हो चुकी है। इधर, बताया गया है कि कोल इंडिया लिमिटेड ने जेबीसीसीआई- XI में प्रतिनिधित्व के लिए 33 निजी कोल कंपनियों को पत्र लिखा है। प्रभात खबर ने इन कंपनियों की सूची भी प्रकाशित की है।

    यहां बताना होगा कि कोयला मंत्रालय ने जेबीसीसीआई- XI गठन के साथ ही इसमें निजी कोल कंपनियों को प्रतिनिधित्व देने को लेकर कोल इंडिया लिमिटेड का पत्र लिखा था। इसके जवाब में कोल इंडिया लिमिटेड ने 10 मई को पत्र लिख कर कोयला मंत्रालय सेे नई कोल कंपनियों और उनके प्रमुखों की लिस्ट उपलब्ध कराने कहा था। बताया गया है कि कोल इंडिया को जो सूची उपलब्ध कराई गई, उसके अनुसार कंपनियों को जेबीसीसीआई के लिए पत्र भेजा गया है।

    जेबीसीसीआइ- VIII तक पांच स्लॉट निजी कोल कंपनियों के प्रतिनिधियों के लिए निर्धारित रहते थे। इनमें टाटा आयरन एंड स्टील कंपनी लिमिटेड (टिस्को), इंटीग्रेटेड कोल माइनिग लिमिटेड (आइएमसीएल), बंगाल एम्टा कोल माइनिग प्लाइवेट लिमिटेड (बीईसीएमएल), जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड (जेएसपीएल) व अन्य निजी कोल कंपनियां शामिल थीं। बताया गया है कि कभी कोई भी निजी कंपनी जेबीसीसीआइ की बैठकों में शामिल नहीं हुईं है। इस कारण जेबीसीसीआइ – IX से निजी कंपनियों के लिए निर्धारित स्लॉट की व्यवस्था खत्म कर दी गई।

    कंपनियों की सूची जिन्हें भेजा गया पत्र

    हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड, अदानी पाॅवर (मुद्रा) लिमिटेड, अरण्या माइंस प्राइवेट लिमिटेड, त्रिमूला इंउस्ट्रीज लिमिटेड, जेएसडब्ल्यू लिमिटेड, उप्र राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड, अडानी इंटरप्राइजेज लिमिटेड, अरबिंदो रीयल्टी एंड इन्फ्राट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड, फेयर माइन कार्बोन्स प्राइवेट लिमिटेड, सनफ्लैग आयरन एंड स्टील लिमिटेड, टॉपवर्थ ऊर्जा एंड मेटल्स लिमिटेड, बीएसएस इस्पात लिमिटेड, इंद्रजीत पावर प्राइवेट लिमिटेड, जयप्रकाश पावर वेंचर्स लिमिटेड, रिलायंस सीमेंट लिमिटेड, स्ट्रेटाटेक मिनरल रिसोर्सेज प्राइवेट लिमिटेड, बिरला कॉर्प लिमिटेड, सारदा एनर्जी एंड मिनरल्स लिमिटेड, जेएमएस माइनिंग प्राइवेट लिमिटेड, बोल्डर स्टोन मार्ट प्राइवेट लिमिटेड, ईएमआईएल माइन्स एंड मिनिरल रिसोर्सेज लिमिटेड, चैगुल एंड कंपनी प्राइवेट लिमिटेड

    HMS ने 42 बिंदुओं वाला चार्टर आफ डिमांड सौंपा

    कोल इंडिया लिमिटेड द्वारा 30 मई को श्रमिक संगठनों की बुलाई गई मीटिंग के पूर्व हिंद खदान मजदूर फेडरेशन (HMS) ने नेशनल कोल वेज एग्रीमेंट- XI के लिए चार्टर आफ डिमांड सौंप दिया है। एचएमएस के चार्टर आफ डिमांड में 42 बिंदु हैं। इस मामले में एचएमएस अन्य यूनियन से आगे निकल गया है।हालांकि बीएमएस, एटक, सीटू द्वारा भी चार्टर आफ डिमांड तैयार किया जा रहा है।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145