Published On : Thu, Sep 6th, 2018

डेढ़ दर्जन से ज्यादा एनसीसी कैडेट विषबाधा के शिकार, देर रात लाया गया मेयो अस्पताल

Mayo Hospital

नागपुर: पाटनसावंगी स्थित पिपला डाक बंगले में चल रहे एनसीसी कैंप में बुधवार की रात कैडेट्स को विषबाधा हो गई. बताया जाता है कि डेढ़ दर्जन से ज्यादा कैडेट को मेयो अस्पताल में लाया गया. 12 का उपचार जारी है, जबकि अन्य को छुट्टी दे दी गई.

जानकारी के अनुसार पिछले कुछ दिनों से पिपला डाक बंगला में एनसीसी कैंप चल रहा है. इसमें शहर के विभिन्न कालेज की छात्राओं ने हिस्सा लिया है. बुधवार की शाम कैडेट्स को खाने में पनीर की सब्जी दी गई. भोजन करने के बाद पहले 2 लड़कियों ने जी मचलने की जानकारी दी और उल्टियां करने लगीं. देखते ही देखते 19 कैडेट्स ने तबीयत खराब होने की जानकारी दी. किसी को उल्टियां हो रही थीं तो कुछ का पेट खराब होने लगा.

स्थिति बिगड़ते देख एनसीसी के अधिकारी उन्हें उपचार के लिए मेयो अस्पताल ले आए. यहां डाक्टरों ने सभी कैडेट्स की जांच की. 7 कैडेट्स को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई, लेकिन अन्य 12 की हालत नाजुक बनी हुई थी. एनसीसी के आला अधिकारी भी अस्पताल पहुंचे. यहां मौजूद अधिकारी तो मीडिया से बात करने को तैयार नहीं थे. ऐसा होना भी लाजिमी है. कैंप के खाने से कैडेट्स को विषबाधा हुई है. कैंप में कैडेट्स के स्वास्थ्य की पूरी जिम्मेदारी एनसीसी की होती है.