Published On : Sat, Jul 22nd, 2017

नागपुर विश्वविद्यालय जांच रही मुंबई विश्वविद्यालय की 2 लाख उत्तरपुस्तिकाएं

Mumbai University
नागपुर:
 मुंबई विश्वविद्यालय के कॉमर्स संकाय की 2 लाख उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन की जिम्मेदारी राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय ने उठाई है. इस काम के लिए मुंबई विश्वविद्यालय के परीक्षा से सम्बंधित अधिकारी कर्मचारी नागपुर पहुंच चुके हैं. 22 जुलाई शनिवार से धनवटे नेशनल कॉलेज और शिवाजी साइंस में मूल्यांकन की प्रक्रिया पूरी की जाएगी.

कुछ दिनों पहले मुंबई विश्वविद्यालय के कुलगुरु डॉ. संजय देशमुख को राज्यपाल ने फटकार लगाई थी. जिसके बाद मुंबई विश्वविद्यालय के कुलगुरु डॉ. देशमुख ने राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के कुलगुरु डॉ. सिद्दार्थविनायक काणे से चर्चा की थी. जल्दी रिजल्ट लगाने के लिए मुंबई विश्वविद्यालय ने अपने कॉमर्स संकाय की 2 लाख उत्तरपुस्तिकाएं मूल्यांकन करने की जिम्मेदारी नागपुर विश्वविद्यालय को सौंपी है.

मुंबई विश्वविद्यालय की ओर से इस वर्ष मार्च, अप्रैल और मई महीने में 477 परीक्षाएं ली गई थीं. जिसमे से केवल 51 परीक्षाओं के परिणाम समय पर आए थे. लेकिन बाकी परीक्षाओं के रिजल्ट अब तक नहीं लगने की वजह से यह निर्णय लिया गया है. राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय ने इस वर्ष का रिजल्ट देने के मामले में अच्छा कार्य किया है. लगभग 1300 परीक्षाओं में से अब तक करीब 1100 परीक्षाओं के रिजल्ट आ चुके हैं. कुछ संकाय के रिजल्ट तो नागपुर विश्वविद्यालय ने 30 दिनों के भीतर ही लगाए थे. इस वर्ष नागपुर विश्वविद्यालय में रिजल्ट को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन में काफी गंभीरता और तेजी देखने को मिली. जिसे देखते हुए यह जिम्मेदारी नागपूर विश्वविद्यालय को दी गई है.