Published On : Tue, Aug 29th, 2017

नागपुर विश्वविद्यालय ने ग्रैज्युएट रजिस्ट्रेशन की बढ़ाई 5 सितम्बर तक मियाद

Nagpur University
नागपुर: राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के स्नातक रजिस्ट्रेशन की मियाद फिर बढ़ाई गई है. तकनिकी कारण को लेकर स्नातक रजिस्ट्रेशन में दिक्कतें आने की बात कबूल कर 5 सितम्बर तक मियाद बढ़ाने का निर्णय प्रशासन ने लिया है. ‘ऑनलाइन ‘ प्रणाली में अनेक अड़चने आने की खबरें प्रसार माध्यमों ने प्रकाशित की थीं. जिसके कारण पिछली बार बढ़ाई गई मियाद के आखरी दिन फिर एक बार रजिस्ट्रेशन की मियाद बढ़ाई गई है. नागपुर विश्वविद्यालय के अंतर्गत स्नातक मतदाताओ के रजिस्ट्रेशन की शुरुआत 12 जुलाई 2017 से की गई थी. पूर्वनियोजित समयानुसार 11 अगस्त 2017 को रजिस्ट्रेशन का आखिर दिन तय किया गया था. लेकिन विभिन्न कारणों और विद्यार्थियों को रजिस्ट्रेशन के दौरान आनेवाली समस्याों को मद्देनजर रखते हुए इसकी मियाद 28 अगस्त तक बढ़ाई गई थी. ‘ ऑनलाइन ‘ शुल्क के साथ ही आवेदन ‘ डाउनलोड ‘ करने का लिंक उपलब्ध करने का आश्वासन भी विश्वविद्यालय ने दिया था.

लेकिन अनेकों को रजिस्ट्रेशन आवेदन की ‘ प्रिंटआउट ‘ निकालने के लिए परेशानी आ रही थी. कुछ स्नातकों ने मोबाइल से रजिस्ट्रेशन किया था. हर बार तुरंत ‘ प्रिंटआउट निकालना मुमकिन नहीं था. आवेदन ‘सेव ‘ कर बाद में प्रिंटआउट निकालने के लिए ‘ लिंक’ ही उपलब्ध नहीं होती थी. ‘ ई’ शुल्क के सम्बन्ध में चुनाव का ऑनलाइन काम संभालनेवाली कंपनी ने प्रस्तुतिकरण भी दिया था. जिससे शुरुआत में ऑनलाइन शुल्क भरना भी संभव हो सका. विश्वविद्यालय वेबसाइट पर इसके लिए अलग लिंक दी गई है. डेबिट कार्ड व नेट बैंकिंग से पैसे भरने का विकल्प भी था. लेकिन पिछले हफ्ते से सभी जानकारी भरने के बाद पैसे भरने की लिंक पर क्लिक करने पर पेमेंट प्रोसेसिंग फेल का सन्देश आ रहा था. इस समस्या को हल करने के लिए सोमवार से ही नागपुर विश्वविद्यालय की ओर से प्रयास किए जा रहे थे.

दोपहर को सभी संगठनों द्वारा कुलगुरु को मुद्दत बढ़ाने को लेकर निवेदन भी दिया गया. जिसमें पूर्व व्यवस्थापन परिषद के सदस्य महेश निंबार्ते, पूर्व विधिसभा सदस्य रितेश गाणार, अ‍ॅड.मनमोहन वाजपेयी, मंगेश डुके, विष्णू चांगदे आदि कुलगुरु से मिले. इनमें स्नातक महासंघ, विद्यापीठ विद्यार्थी संग्राम परिषद, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, एनएसयूआई, राष्ट्रवादी विद्यार्थी कांग्रेस, सेक्युलर पॅनल का समावेश था.

इस बारे में नागपुर विश्वविद्यालय के कुलगुरु डॉ. सिध्दार्थविनायक काणे ने जानकारी देते हुए बताया कि 5 सितम्बर तक पंजियन की मियाद बढ़ाई गई है. विद्यार्थी और पदवीधर मतदाता 7 सितम्बर तक आवेदन की कॉपी विश्वविद्यालय में जमा कर सकते हैं. उन्होंने इस दौरान यह भी जानकारी दी कि मियाद बढ़ाने के कारण चुनाव के समय पर कोई परिणाम नहीं होगा.