| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Apr 2nd, 2019

    कांग्रेस का घोषणापत्र देशद्रोही और अलगावादियों को खुश करने के लिए- विदेशमंत्री सुषमा स्वराज

    नागपुर- कांग्रेस का घोषणापत्र देशद्रोही और अलगावादियों को खुश करने के लिए बनाया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान के हमलों का जवाब सर्जिकल स्ट्राइक से देते है और दूसरी तरफ कांग्रेस के अध्यक्ष देशद्रोह को अपराध मानने से इंकार करते है. उन्होंने अपने घोषणापत्र में कहा है कि देशद्रोह को अपराध घोषित करनेवाले कानून को समाप्त किया जाएगा. एक तरफ प्रधानमंत्री मोदी अलगाववादियों की सुरक्षा को वापिस लेकर उनपर दबाव बनाते है और वही कांग्रेस अध्यक्ष अलगाववादियों से वार्ता करने की बात घोषणापत्र में करते है. यही फर्क है एक चौकीदार और एक राजकुमार में. यह हमला विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कांग्रेस अध्यक्ष पर किया. मंगलवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जगनाडे चौक स्थित होटल रेजेंटा में आयोजित महिला सम्मेलन बोल रही थी. इस दौरान केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, कांचन गडकरी, महापौर नंदा जिचकार, सुलेखा कुंभारे, हरियाणा की अभिनेत्री और भाजपा नेता सोनाली मौजूद थी.

    इस दौरान स्वराज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिर प्रधानमंत्री और नितिन गडकरी को फिर से नागपुर से जिताएं. उन्होंने आगे कहा कि देश के लोग इतने नादान नहीं कि देश ऐसे लोगों के हाथों में सत्ता सौंप दे. उन्होंने भरोसा जताया की नरेंद्र मोदी फिर प्रधानमंत्री बनेंगे क्योंकि उनके हाथों में राष्ट्र सुरक्षित है. महिलाओ के लिए प्रधानमंत्री ने काफी कार्य किया है.कन्याभ्रूण हत्या से लड़कियों की जन्म दर कम हो गई थी. प्रधानमंत्री ने कहा था कि कानून से यह भूर्णहत्या नहीं रुकेगी. इसके लिए जागरूकता जरुरी है. उन्होंने बेटी बचाव बेटी पढ़ाओ शुरू किया. अजन्मी बच्चियों से लेकर उनके बुढ़ापे तक का ख्याल रखा गया. सुकन्या योजना के माध्यम से पैसे जमा करने पर बच्ची को 8 प्रतिशत ब्याज के साथ 18 साल की होने पर पैसा मिलेगा. प्रधानमंत्री के कारण जन्म दर ठीक हुयी है. गर्भवती महिलाओ को 26 हफ्तों की छुट्टी घोषित की गई है. मुद्रा लोन के द्वारा 16 करोड़ लोगों को कर्ज मिला है. आज इस्लामिक राष्ट्रों ने भी पाकिस्तान को अलग थलग कर दिया है.

    इस समय केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि पहली बार चुनाव प्रचार के लिए सुषमा स्वराज नागपुर आयी है. पूरी दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ा है. उन्होंने कहा की किसी भी भारतीय को विदेश में मुसीबत होती है तो वह ट्वीट करता है तो उसकी मदद सुषमा स्वराज करती है. पहली बार 2014 में लोकसभा चुनाव के लिए खड़ा हुआ. मेघालय से म्यांमार तक 2500 करोड़ रुपए खर्च कर रोड बनाया जा रहा है. अफगानिस्तान और रशिया में हमारा मार्ग पाकिस्तान से जाता था. हमें कराची से जाना पड़ता था. जब अटलबिहारी प्रधानमंत्री थे तब उन्होंने ईरान के साथ करार किया था की चाबहार में हम पोर्ट बनाएंगे. उसमे काफी दिक्कते थी. सुषमा स्वराज के सहयोग से हमें यह सफलता मिली.

    ईरान में चाबहार में पोर्ट बना लिया है. अब कोई भी विमान चाबहार पोर्ट जाता है. रोड के द्वारा वहां दूसरे देशों में भी जा सकते है. भारत के विकास का गेट शुरू हुआ है. वाराणसी से हल्दिया जलमार्ग लगभग पूरा हो गया है. दिल्ली यमुना से बांग्लादेश तक जलमार्ग से जा पाएंगे . इसके लिए 12 हजार करोड़ का डीपीआर वर्ल्ड बैंक को भेज दिया गया है. पानी का सफर सबसे सस्ता है. इससे युवाओ को बड़ा रोजगार भी मिलेगा. 20 हजार किलोमीटर की नदियों को जलमार्ग में रूपांतरित किया है. नागपुर में कई शिक्षा संस्थान से जुड़े प्रोजेक्ट लाए है. उत्तर नागपुर में दलित और मुस्लिम समुदाय की महिलाओ ने काफी प्रतिसाद दिया है. उन्होंने मौजूद महिलाओ से अपील की है कि उन्हें बड़ी लीड से जिताएं. पिछली बार की मार्जिन से ज्यादा वोटों से जीताने की जिम्मेदारी उन्होंने मतदाताओ को दी है.

    इस समय महापौर नंदा जिचकार, पूर्व महापौर अर्चना डेहणकर, सुलेखा कुंभारे, हरियाणा की अभिनेत्री और भाजपा नेता सोनाली ने भी मौजूद महिलाओ को सम्बोधन किया. इस समय बड़ी तादाद में महिलाएं इस सम्मेलन में मौजूद थी.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145