Published On : Sat, Apr 14th, 2018

रेप कांड के विरोध में नागपुर के एक मकान पर लगा ऐसा नोटिस कि भाजपावालों के चेहरे लाल हो गए


नागपुर: जम्मू कश्मीर में 8 साल की बच्ची के साथ हुए रेप और हत्याकांड मामले का विरोध देश भर में हो रहा है. मोदी सरकार पर सीधे निशाने साधे जा रहे हैं. इसी तरह का विरोध नागपुर में भी देखने मिल रहा है, जहां मनीष नगर में रहनेवाले एक मकानधारक ने घर के गेट पर नोटिस लगाया है जिसमें लिखा है, “हमारे यहां न पधारें(एक 8 साल की बच्ची हमारे घर में भी रहती है. कृपया, भाजपा का कोई भी नेता हमारे यहां न आए.) बता दें कि नोटिस लगानेवाला घर प्रदेश के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के निर्वाचन क्षेत्र अर्थात दक्षिण-पश्चिम नागपुर में आता है. ऐसे में इस नोटिस को लेकर स्थानीय स्तर पर भाजपा कार्यकर्ताओं के चेहरे लाल दिखाई दे रहे हैं. मुख्य मंत्री के क्षेत्र में भाजपा का इस ढंग से विरोध, सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है.

बता दें कि जम्मू कश्मीर रेप कांड में भाजपा के दो मंत्रियों ने आरोपियों के पक्ष में कार्रवाई का विरोध किया था, जिसे देखते जनता भड़क गई. बाद में बढ़ते जन विरोध के बीच इन दोनों विधायकों को अपनी कुर्सी छोड़नी पड़ी. पार्टी को भी इस मामले में मुंह छिपाना पड़ रहा है. इस घटना को लेकर देश ही नहीं बल्कि प्रदेश की उपराजधानी नागपुर में भी नागरिकों का बड़े पैमाने पर विधोर देखने मिल रहा है. वहीं बताया जा रहा है कि जिस घर में यह नोटिस लगाया गया है वह कांग्रेस के किसी कार्यकर्ता का घर है. , जिसने क्षेत्र में भाजपा के खिलाफ माहौल पैदा करने की कोशिश की है. पीड़ित बच्ची का इसी वर्ष जनवरी में अपहरण कर एक धार्मिक स्थल में रखा गया था, जहां उससे कई बार रेप किया गया और बाद में उसे दर्दनाक ढंग से मौत के घाट उतार दिया गया. बच्ची का शव उसके घर से कुछ ही दूरी पाया गया था.