Published On : Thu, Nov 14th, 2019

नागपुर-नागभीड नैरोगेज होगी बंद, ब्रॉडगेज का काम होगा शुरू

नागपूर : लगभग 100 साल से चल रही नागपुर-नागभीड- नॅरोगेज पॅसेंजर के पहिए अब थमनेवाले है. 25 नवंबर से यह गाडी हमेशा के लिए बंद करणे का निर्णय दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे ने लिया है. नागपुर-नागभीड के इस नॅरोगेज रेलमार्ग को ब्रॉडगेज करने की मांग कई वर्षों से की जा रही थी. 1952 में पहली बार यह मांग की गई थी. ममता बॅनर्जी जब रेलमंत्री थी, उस समय उन्होंने इस मार्ग को ब्रॉडगेज करने की घोषणा की थी.

इस कार्य की सरकारी निविदा निकाली गई है. 1 दिसंबर से काम शुरू होने जा रहा है. मार्ग 116 किमी का जिसका काम 2 चरणों में होगा. पहले नागभीड़ से भिवापुर एवं बाद में उमरेड से नागपुर होगा. मार्ग का रूपांतर ब्राडगेज में हो इसके लिए अनेक निवेदन दिए गए थे.

पश्चात तत्कालीन रेलमंत्री ममता बैनर्जी ने रेलवे बजट में मंजूरी दी. तब से इस मार्ग के निर्माण की हलचल तेज हो गई.

इस काम की निविदा निकाली गई है. संबंधित कंपनी ने काम शुरू करने के संबंध में पत्र रेलवे बोर्ड को दिया है.