Published On : Tue, Aug 25th, 2020

मंडी सेस के विरोध में आज नागपुर कृषि उत्पन बाजार समिति कलमना मार्किट यार्ड पूर्णतः बंद।

Advertisement

नागपुर, महाराष्ट्र सरकार ने APMC यार्ड के बाहर मंडी सेस समाप्त कर दिया है और  नागपुर Apmc यार्ड में 1.05% सेस को कायम रखा है।दी होलसेल ग्रेन एंड सीड्स मर्चेंट एसोसिएशन के सचिव प्रताप मोटवानी ने बताया कि इससे APMC यार्ड में सभी व्यापारियों का पूरा व्यापार चौपट हो जाएगा।। यह निर्णय पूरी तरह पक्षपाती है।

Advertisement
Advertisement

होलसेल अनाज बाजार को APMC यार्ड में इसी शर्त पर शिफ्ट किया था कि शहर में पूरा अनाज कलमना मार्किट में आकर हमारे व्यापारियो के बिल बना कर सेस पटाकर ही शहर के विभिन्न क्षेत्रों में जाएगा।अब स्थिति पूरी तरह विपरीत है। ऐसी स्थिति में मार्किट यार्ड का क्या महत्व रहा,अब मार्किट यार्ड में सेस लगने से वहाँ कौन माल लेने आएगा।।मोटवानी ने बताया कमिट के चेयरमैन मोहन भाई गुरनानी, अध्यक्ष दीपेन भाई अग्रवाल के आव्हान परआज मंगलवार को पूरे महाराष्ट्र की मंडिया पूरी तरह बंद रही सांकेतिक बंद को पूरे महाराष्ट्र सहित नागपुर में शत प्रतिशत सफलता मिली।

होलसेल ग्रेन एंड सीड्स मर्चेंट अस्सो के अध्यक्ष संतोष कुमार अग्रवाल और सचिव प्रताप मोटवानी ने कहा कि अगर APMC यार्ड से सेस नही हटाया गया तो हम अनिश्चित कालीन बंद करने पर विचार करेंगे।नागपुर APMC में व्यापारियो की समस्या सुनने वाला कोई नही है।।मार्किट में अनगिनित समस्याएं कायम है।

आज के सांकेतिक बंद में  नागपुर कलमना मार्किट स्थित APMC मार्किट में होलसेल अनाज बाजार,के अध्यक्ष संतोष अग्रवाल सचिव प्रताप मोटवानी, धान्य आढ़तिया मंडल के अतुल भाई सेनाड, गोपाल भाई कलमकर, फ्रूट मार्किट से आनंद डोंगरे राजेश छाबरानी , पन्ना लाल शाहू, मिर्ची मार्किट से विनोद गर्ग ,संजय वाधवानी, आलू कान्दा मार्किट से अमोल गुलवाड़े, सब्जी मार्किट से नंदकिशोर गौर  ने सांकेतिक बंद को पूरा समर्थन देकर अपने मार्किट बंद रखे।।।कमिट के अध्यक्ष दीपेन भाई अग्रवाल ने सभी मार्किट के पदाधिकारियों का आभार माना

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement