Published On : Mon, Apr 20th, 2020

सांसद सुनील मेंढे ने कलेक्टर की मुख्य सचिव से की शिकायत

जनप्रतिनिधि के विशेषाधिकार का उल्लंघन बताया

गोंदिया -भंडारा जिले के लोकसभा सांसद सुनील मेंढे ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते कहा है कि एक निर्वाचित जन प्रतिनिधि के रूप में कोरोना की पृष्ठभूमि पर गोंदिया जिले की स्थिति की समीक्षा हेतु उन्होंने जिलाधिकारी कार्यालय से 4-5 बार फोन पर संपर्क करने का असफल प्रयास किया। तत्पश्चात जिलाधिकारी इन्हें 14 अप्रैल को पत्र प्रेषित कर सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का कठोर रूप से पालन करते हुए बैठक आयोजित करने हेतु लिखित पत्र सादर किया , लेकिन जिला कलेक्टर ने जिलाबंदी का कारण बताते हुए बैठक आयोजित करने से इनकार कर दिया।

खबर है कि आज, 20 अप्रैल को, राज्यसभा के सदस्य श्री प्रफुल्लभाई पटेल ने गोंदिया कलेक्टर कार्यालय में सभी सरकारी अधिकारियों के साथ एक बैठक की। इसके लिए वह रेड जोन में मुंबई से गोंदिया आए। साथ ही, श्री सुनील केदार ने रेड जोन घोषित नागपुर से भंडारा में आकर 2-3 बार सरकारी बैठकें भी की हैं।

यह स्पष्ट प्रतीत होता है कि राज्य के सत्ता पक्ष के लिए एक नियम है और विपक्ष के लिए नियम कायदे अलग है।

देश करोना महामारी के संकट का सामना कर रहा है । प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में समूचा देश एकजुट होकर इस कोरोना के संकट से संघर्ष कर रहा है ऐसे में राजनीति को परे रखने की अपेक्षा सांसद सुनील मेंढे ने व्यक्त की है ‌एंव एक प्रतिनिधि होने के विशेषाधिकार के उल्लंघन के कारण, सांसद श्री मेंढे ने आज 20 अप्रैल को राज्य सरकार के मुख्य सचिव के पास गोंदिया कलेक्टर की शिकायत दर्ज कराई है, ऐसी जानकारी उन्होंने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी है ।

रवि आर्य