Published On : Fri, May 15th, 2015

मूल : जनता को परेशान करने वाले नगरसेवकों को भाऊ संभाले

mungantiwar
मूल (चंद्रपुर)। शासनस्तर पर तांत्रिक तकलीफे दूर करने के लिए लाखों रूपये खर्च करके निर्माण किया व्यापारी संकुल विवाद में फंसा है. जिससे नगरपरिषद का आर्थिक नुकसान हो रहा है. इस नुकसान की ओर ध्यान न देते हुए विविध टैक्सों को अनाब-शनाब टैक्स बताकर जनता को परेशान करने वाले नगरसेवको को भाऊ संभाले ऐसी मांग कांग्रेस के तालुकाध्यक्ष घनश्याम येनुरकर और कार्याध्यक्ष संजय मारकवार ने की है.

”आमदनी अठ्ठनी खर्चा रुपया” ऐसी अवस्था रहने वाले मूल नगर परिषद के आर्थिक उत्पन्न में बढ़त होने की दृष्टी से सत्तारूढ़ भाजपा नगरसेवकों की ओर से लगाए गए विविध टैक्सों में बढ़त करने का निर्णय लिया गया. सत्तारूढ़ नगरसेवकों की ये कृति नागरिकों को आर्थिक नुकसान पहुंचाने वाली है. जिस विश्वास से नागरिकों ने जीत दिलाई उसी का विश्वास को तोडा जा रहा है. यह कार्य खेद जनक होने का आरोप येनुरकर और मारकवार ने किया है.

कुछ वर्ष पहले नगर परिषद ने लाखों रूपये खर्च करके चंद्रपुर मार्ग पर सार्वजनिक रंगमंच के सामने व्यापारी संकुल का निर्माण किया. व्यापारी संकुल निर्मिति के पीछे नगर परिषद का उद्देश विधायक होगा. फिर भी निर्माण पूर्व तांत्रिक परेशानी पूर्ण नही हुई और व्यापारी संकुल गत पांच वर्षों से खडा है. लाखों रूपये खर्च करके निर्माण किया व्यापारी संकुल जनता के सेवा के लिए उपलब्ध न करके देते हुए बिना मतलब का रह गया है.

नगर परिषद पर भाजपा की सत्ता है. क्षेत्र के विधायक और सांसद भी भाजपा के है. राज्य और केंद्रीय मंत्रिमंडल में मंत्री है. जिससे व्यापारी संकुल के उपयोग के लिए आ रही तकलीफे दूर करना नगर परिषद प्रशासन के साथ मंत्रीयों को संभव है. लेकिन जनता के हित के लिए बनाये गए व्यापारी संकुल के लोकार्पण की ओर नगर परिषद प्रशासन के साथ भाऊ और भैया अनदेखी कर रहे है. शहर के दर्शनी क्षेत्र में बने व्यापारी संकुल का कुछ लोगों द्वारा दुरूपयोग होने की बात येनुरकर और मारकवार ने व्यक्त की है.


एक तरफ विकास के नाम पर शहर के अंतर्गत मार्ग का निर्माणकार्य शुरू है. नागरिक मार्ग के किनारे छोटे दुकान और टपरिया लगाकर परिवार की उपजीविका चलाते है. मार्ग के निर्माणकार्यों से वो दुकाने तोडने पड रहे है. इसके अतिरिक्त राज्य मार्गपर अनेकों को रोजगार छोड़कर अन्य रोजगार की ओर जाना पड रहा है. ऐसी स्थिति में नगर परिषद ने बनाये व्यापारी संकुल को उपयोग में लाया तो बेरोजगारों को रोजगार मिल सकता है. अन्यथा रोजगार के अभाव में परिवार की उपजीविका चलाना मुश्किल होगा. ऐसी स्थिती में भाऊ और भैया की मदद से निर्माण किया व्यापारी संकुल रोजगार के लिए उपलब्ध करके दे. ऐसी मांग कांग्रेस के तालुकाध्यक्ष घनश्याम येनुरकर और कार्याध्यक्ष संजय मारकवार ने की. उक्त मांग समेत बढे टैक्स के खिलाफ जनआंदोलन करेंगे. ऐसा भी इशारा दिया है.