Published On : Mon, Jun 4th, 2018

मानसून अधिवेशन में निजी कंपनी ओला के वाहनों का होगा इस्तेमाल


नागपुर:नागपुर में होने जा रहे विधिमंडल के मानसून अधिवेशन के दौरान निजी कंपनियों की मदत में वाहनों की आपूर्ति की जाएगी। टैक्सी सेवा प्रदाता कंपनी ओला से प्रशासन 200 कार किराये से लेने वाला है। अधिवेशन की तैयारियों से जुडी जानकारी देने के लिए आयोजित प्रेस वार्ता में विभागीय आयुक्त अनूप कुमार ने यह जानकारी दी। नागपुर में होने वाले अधिवेशन में नागपुर अमरावती, औरंगाबाद और नाशिक विभाग में उपलब्ध वाहनों का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन आयुक्त के अनुसार बारिश का समय होने की वजह से वाहनों की उपलब्धता में दिक्कत होगी इसलिए निजी कंपनी से किराये से वाहन लिए जाने का फैसला लिया गया है।

कंपनी से 200 टैक्सियाँ ली जाएगी जिनमे से 100 टैक्सी ग्रीन टैक्सी यानि की इलेक्ट्रिक से चलने वाली टैक्सियाँ होंगी। ओला से सुविधा लेने को लेकर कंपनी से करार किया जायेगा। विभागीय आयुक्त ने बताया की अधिवेशन की अवधि को लेकर कोई स्पस्ट आदेश राज्य सरकार की तरफ से नहीं आया है लेकिन औसतन नागपुर में होने वाला अधिवेशन तीन हफ्तों के लिए होता है। इस समयावधि के लिए तैयारियाँ की जा रही है। गौरतलब हो की मुंबई में विधायक निवास ईमारत की दुरुस्ती का काम शुरू होने की वजह से राज्य सरकार ने नागपुर में मानसून सत्र लेने का निर्णय किया है। वर्ष 1970-71 में इससे पहले नागपुर में मानूसन अधिवेशन लिया जा चुका है।

विभागीय आयुक्त ने बताया की मानसून अधिवेशन होने की वजह से मोर्चे विधानसभा में नहीं आयेगे। इस लिए ग्रीष्मकालीन अधिवेशन पुलिस फ़ोर्स में शामिल पुलिस कर्मचारियों की संख्या कम होगी जिससे व्यवस्था थोड़ी आसान हो जाएगी।

सुरक्षा के लिए आने वाले पुलिकर्मियों के रुकने के लिए मोरिस कॉलेज, बाल सदन, शाषकीय हॉस्टल, मनकापुर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, किसान भवन के साथ सरकार की अन्य ईमारतों में व्यवस्था की जाएगी। प्रेस परिषद में नागपुर के डीएम अश्विन मुदगल और मनपा आयुक्त वीरेंद्र सिंग के साथ अन्य अधिकारी उपस्थित थे।