Published On : Tue, Oct 21st, 2014

वाशीम में चलता-बोलता मिशन स्वछता !

Mobile announcements of Mission Cleanliness
वाशीम।
राष्ट्रीय स्वछता अभियान चलाने के लिए चयन किये गए गावों में जाकर नागरिकों से संपर्क करने व उनकी मानसिकता बदलकर अधिकाधिक लोगों को अभियान में शामिल करने के उद्देश्य से जिला परिषद की टीम द्वारा चलता-बोलता मिशन स्वछता उपक्रम चलाया जा रहा  है. जिसके तहत वाशीम के फालेगांव थेट, शिरसाला, मंगरूलपीर,  मसोला बु., धनोरा फाटा आदि कई स्थानो पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

इस संदर्भ में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रुचेश जयवंशी ने जानकारी दी है कि, राष्ट्रीय स्वछता अभियान चलाने के लिए जिला  व तहसील स्तरीय अधिकारी व कर्मचारियों ने 44 ग्राम पंचायतों को गोद लिया है. स्वछ भारत मिशन सरकार का महत्वाकांक्षी उपक्रम है. जिसके तहत दीपावली तक जिले में राष्ट्रीय स्वछता अभियान चलाया जा रहा है. ग्रामस्तर पर जनजागृती की जा रही है. राष्ट्रीय स्वछता अभियान के तहत जिनके घरों में शौचालय नहीं है ऐसे परिवारों से मुलाकात कर उन्हें शौचालय के निर्माणकार्य करने के लिए प्रवृत्त किया जा रहा है. इसी के साथ अभियान को सफल बनाने के लिए स्वछता विषय पर लोगों से सवाल पूछकर तीन सवालों का सही जवाब देनेवालों को पुरस्कार देने की भी योजना है. इसके अलावा नेल कटर, साबुन, झाड़ू, हैंडवॉश, आइना- कंघी तथा सफाई चार्ट आदि वस्तुए दी जा रही है. हाल ही में नागरिकों को सफाई का महत्त्व बताने के लिए कार्यक्रम आयोजन किया गया.

Mobile announcements of Mission Cleanliness
इस अवसर पर  जिला परिषद  के मुख्य कार्यकारी अधिकारी  रुचेश जयवंशी, सुभाष  पवार, संजय  इंगले, योगेश  जवादे, राम श्रृंगारे,  सुमेर चाणेकर, शंकर  आंबेकर, विवेक राजुरकर, विजय नागे, अमित  घुले, महादेव भोयर आदि उपस्थित थे.