Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Aug 14th, 2018

    झोपड़पट्टीवासियों को मालकी हक के पट्टे, NIT करेगी रजिस्ट्री : खोपड़े

    BJP MLA Krishna Khopde

    नागपुर: देश और राज्य के इतिहास में पहली बार नागपुर सुधार प्रन्यास की जगह पर पिछले 50 वर्षों से रह रहे नागरिकों को मालकी हक के पट्टे देने की शुरुआत पूर्व नागपुर से की जा चुकी है. यह जानकारी विधायक कृष्णा खोपड़े ने दी. उन्होंने कहा कि अधिकांश झोपड़ाधारकों को अलाटमेंट लेटर देना शुरू कर दिया गया है. लेकिन झोपड़पट्टीवासियों को परमानेंट रजिस्ट्री दी जानी चाहिए. खोपड़े द्वारा बार-बार एनआईटी से इस बाबत मांग करने पर अब इस काम भी शुरुआत की जा चुकी है.

    आदर्शनगर झोपड़पट्टी में रजिस्ट्री शुरू
    आदर्शनगर झोपड़पट्टीवासियों को एनआईटी की ओर से अलॉटमेंट लेटर दे दिया गया था. नागरिकों से संपर्क के बाद नगरसेविका मनीषा धावडे, चरण धावडे, श्याम मदान और आशीष धावडे की मदद से एनआईटी से चर्चा कर दुय्यम निबंधक– वर्ग 2 नागपुर में एनआईटी और झोपड़ीवासियों के साथ किरायानामा बनाकर दिया गया. मौजा– पारडी, खसरा क्र. 59, 60 नगर भूमापन क्र. 420, 421, सेक्टर क्र. ए, भूखंड क्र.134, क्षेत्रफल – 23.942 चौ.मी. (257.70 चौ.फुट) की पट्टेधारक कुसुम दिलीप गभणे व दिलीप पुंडलिक गभने के साथ ही कुल 29 लोगों को रजिस्ट्री कराकर दी गई, जबकि 170 लोगों के लिए रजिस्ट्री की प्रक्रिया जारी है.

    उन्होंने बताया कि पूर्व नागपुर में डिप्टी सिग्नल, पेन्थरनगर, प्रजापतिनगर, नेहरूनगर और सोनबानगर में प्लेन टेबल सर्वे करके अलॉटमेंट लेटर दिया गया. यहां भी रजिस्ट्री करने की कार्रवाई शुरू की जा चुकी है. नंदनवन झोपड़पट्टी, संघर्षनगर और हसनबाग समेत एनआईटी के तहत करीब 10,000 पट्टों की रजिस्ट्री का काम जारी है. उन्होंने कहा कि एनआईटी द्वारा लगाया जाने वाला ग्राउंड रेंट रद्द कर दिया गया है. इससे ओपन वर्ग के नागरिकों को 500 स्क्वायर फीट तक मुफ्त पट्टे दिए जा रहे हैं. खोपड़े ने इस कार्य के लिए एनआईटी के सभापति अश्विन मुदगल, रामटेके, गुज्जलवार, चिमूरकर, मुंडले समेत सभी विभागों के अधिकारियों को अभिनंदन किया.

    कांग्रेस सिर्फ वोटों की राजनीति करती रही
    खोपड़े ने कहा कि पिछले 50 से 60 वर्षों से इन झोपड़पट्टियों में रहने वालों को मालकी हक के पट्टे दिए जाएंगे, यह घोषणा कांग्रेस हर चुनाव के समय करती रही. बड़े-बड़े विज्ञापन दिए गए लेकिन एक भी झोपड़ीवाले को पट्टा नहीं दिया गया. अब फिर से चुनाव आ गए तो फिर वहीं राग अलापा जाएगा. इस प्रकार कांग्रेस द्वारा सिर्फ वोटों की राजनीति ही की गई.

    उलटा चोर कोतवाल को डांटे
    भारतीय जनता पार्टी ने पिछले 4 वर्षों के दौरान झोपड़पट्टीवासियों के साथ न्याय देकर मालकी हक के पट्टे देने का काम शुरू कर दिया. लेकिन कांग्रेस के घिसे-पिटे नेताओं को इसकी एबीसीडी भी नहीं समझती. यही कारण है कि झोपड़पट्टीवासियों को पट्टे वितरण का काम शुरू होते ही उनके पेट में दर्द होना शुरू हो चुका है. इसलिए अब कांग्रेस अफवाह फैलाने का काम कर रही है.

    नागरिकों ने जिन लोगों की दूकानदारी बंद कर दी, उस कांग्रेस पार्टी को अब जनता कोई तवज्जो नहीं देगी. खोपड़े ने इस ऐतिहासिक निर्णय के लिए केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी, मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस, पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले आदि का नागरिकों की ओर से आभार माना.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145